in

अगर आप में भी हैं ये सभी आदतें तो रहें सावधान, हो सकते हैं डायबिटीज के शिकार

Diabetes, How to Control Diabetes: भारत में आज डायबिटीज एक आम समस्या हो गई है. इसे पीड़ित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. एक्सपर्ट का मानना है कि डायबिटीज के बढ़ने के पीछे सबसे बड़ा कारण हमारी सुस्त लाइफ स्टाइल और हमारा खानपान है. भारत में करोड़ों की संख्या में डायबिटीज के मरीज हैं और यह संख्या तेजी से बढ़ रही है.

फॉर योर स्वीटहार्ट  के अनुसार डायबिटीज दो प्रकार की होती है टाइप 1 डायबिटीज किसी को भी आनुवांशिक तौर पर मिलती है जबकि टाइप 2 की डायबिटीज गलत खानपान और हमारे गलत रहन सहन की वजह से होती है. टाइप 1 को तो हम कंट्रोल नहीं कर सकते लेकिन टाइप 2 से बचना हमारे हांथ में है.

किसी भी बीमारी के इलाज के लिए बहुत जरूरी होता है कि उसके कारणों का पता लगाया जाए. डायबिटीज में भी यही कंडीशन है. हमारी लाइफ स्टाइल में कई सारी ऐसी आदतें होती हैं जो हमें इस बीमारी से ग्रसित कर देती हैं. अगर आप भी डायबिटीज से बचना चाहते हैं तो अपनी लाइफ स्टाइल से इन आदतों को तुरंत छोड़ दें.

नाश्ता नहीं करना (Skipping breakfast)
सुबह का हल्का नाश्ता स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी होता है. अगर आप ऐसे लोगों में शामिल हैं जो नाश्ते को छोड़ देते हैं तो आप डायबिटीज के शिकार हो सकते हैं. क्योंकि नाश्ता न करने से आप पूरे दिन के लिए ओवरईटिंग के शिकार हो सकते हैं. अगर आपके पास नाश्ता करने का समय नहीं है तो आप कुछ फ्रूट भी ले सकते हैं. डायबिटी से बचने के लिए आप दिन की सुबह किसी पौष्टिक आहार से कर सकते हैं.

एक साथ लंबे समय तक बैठे रहना (Sitting for long periods )
लंबे समय तक बैठ कर काम करने से भी अक्सर डायबिटीज की समस्या उत्पन्न हो जाती है. लंबे समय तक कंप्यूटर में बैठना, सोफे पर बैठक काम करना आपके जोखिम को बढ़ा देता है. कई शोध में यह सामने आया है कि 30 मिनट से ज्यादा देर तक बैठकर काम करने से शरीर में कई तरह की दिक्कते आ जाती है जिसमें टाइप 2 का डायबिटीज भी शामिल है. अगर आप ऐसा कोई काम करते हैं तो आपको बीच बीच में ब्रेक लेते रहना चाहिए.

Palm Oil Benefits : इम्यूनिटी को बूस्ट करता है ताड़ का तेल! गर्भवती महिलाओं के लिए भी है जरूरी, जानें इसके फायदे

यही कारण है कि अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन (एडीए) सभी को सलाह देता है – यहां तक ​​​​कि जिन लोगों को मधुमेह नहीं है – वह हर 30 मिनट में उठे और कुछ हल्की गतिविधी करें जिससे इस खतरे को टाला जा सके.

देर से सोना (Sleeping late)
देर से सोने की आदत शरीर में कई तरह की समस्याओं को जन्म देती है. अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है कि आप रात में अच्छी नींद लें. डायबिटीज की समस्या अधिकांशत: उन लोगों में पाई जाती है जो देर रात तक काम करते हैं. देर से सोने से शरीर में मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया प्रभावित होती है. नींद में कमी से डायबिटीज का जोखिम बहुत अधिक बढ़ जाता है. डायबेटोलोजिया में 2020 में प्रकाशित एक अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने लगभग 900,000 लोगों के डीएनए को देखा और पाया कि अनिद्रा से पीड़ित लोगों में टाइप 2 के डायबिटीज होने की संभावना 17 प्रतिशत अधिक थी. नींद की कमी से शरीर में हार्मोन का संतुलन भी बिगड़ जाता है.

प्रोसेस्ड फूड और मीट से दूरी बनाएं ( Eating processed foods)
आजकल हमारी खानपान शैली पूरी तरह से बदल गई है. हम दैनिक जीवन में ऐसे बहुत से खाद्य पदार्थों का सेवन करने लगे हैं जो भविष्य में हमें कई तरह की बीमारियों से ग्रसित कर सकते हैं. एक अध्ययन के अनुसार प्रोसेस्ड फूड से डायबिटीज का खतरा 15 प्रतिशत अधिक होता है. रेड मीट भी डायबिटीज को निमंत्रण देता है इसलिए आपको इसके सेवन से बचने की जरूरत है.

Banana Benefits: हेल्थ और फिटनेस के लिए रामबाण से कम नहीं है केला, हर दिन सेवन से मिलेंगे ये 7 बड़े फायदे

धूम्रपान और शराब का सेवन (Smoking)
अगर आप ऐसे लोगों में शामिल हैं जो धूम्रपान करते हैं तो आपको डायबिटीज का खतरा अन्य लोगों की तुलना में कहीं अधिक है. रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के अनुसार, धूम्रपान करने वालों में धूम्रपान न करने वालों की तुलना में मधुमेह विकसित होने की संभावना 30 से 40 प्रतिशत अधिक होती है. धूम्रपान और शराब का सेवन डायबिटीज के अलावा हृदय रोग और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी बीमारियों को भी जन्म देता है. धूम्रपान मानव की ब्लड कोशिकाओं पर असर डालता है और साथ ही यह धमनियों को भी संकुचित कर देता है जिससे हॉर्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है.

मीठे पदार्थों का सेवन करना (Guzzling sugary drinks)
अगर आप डायबिटीज की समस्या से बचना चाहते हैं तो आपको शर्करा युक्त चीजों से दूरी बनानी पड़ेगी. शुगर डायबिटीज के लिए सबसे ज्यादा हानिकारक है. अगर आप मधुमेह से पीड़ित हैं तो आपको कम कॉर्ब वाली शुगर रहित चीजें खानी चाहिए. डायबिटीज से पीड़ित लोग डार्क चॉकलेट खा सकते हैं क्योंकि इसमें दूसरी चॉकलेट के मुकाबले शर्करा काफी कम मात्रा में होती है.

पानी का सेवन कम करना (Not drinking enough H20 )
पानी हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक है. डॉक्टर्स समान्य तौर पर प्रतिदिन 5-6 लीटर पानी पीने की सलाह देते हैं. पानी से बहुत सी बीमारियां दूर हो जाती हैं. शोध कर्ताओं ने पाया है कि जो लोग कम पानी पीते हैं उनके ब्लड में शुगर लेवल बढ़ने का खतरा अधिक रहता है. लीवर और किडनी को पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ न मिलने की वजह से ब्लड शुगर बढ़ने लगता है. पानी की मात्रा बढ़ाने से डायबिटीज के खतरे को कम किया जा सकता है.

देर रात में खाना (Midnight snacking)
रात में देर तक जगने से आपको भूख लग सकती है और देर रात खाने से आप डायबिटीज से पीड़ित हो सकते हैं. रात के खाने के बाद आपका देर रात कोई ऐसा आहार लेते हैं जिसमें कार्बोहाइड्रेट अधिक होता है तो इससे आपके ब्लड में शर्करा की मात्रा को बढ़ सकती है और आप डायबिटीज से पीड़ित हो सकते हैं. कोशिश करें कि रोजाना तीनों टाइम संतुलित आहार लें और देर रात कुछ भी खाने से बचें.

Tags: Diabetes, Health, Lifestyle

Source link

Isha Koppikar B'day Spl: ब्लैक बेल्ट हैं 'खल्लास गर्ल' ईशा कोप्पीकर, नई पारी के लिए हैं तैयार

Sushma Adhikari Pics: ब्लैक गाउन और क्रॉप टॉप में ग्लैमरस दिखीं भोजपुरी एक्ट्रेस, क्यूटनेस पर फिदा हुए फैंस