in

आपका नमक हड्डियों को कर रहा कमजोर, जानें बोन्स के लिए कौन-कौन सी चीज हैं नुकसानदेह

हाइलाइट्स

अधिक नमक का प्रयोग हड्डियों को कमजोर बना देता है. सोडा के प्रयोग से फ्रैक्‍चर होने का खतरा बढ़ जाता है.हड्डियों को मजबूत करने के लिए जरूरी फल और कैल्शियम.

What Makes Bones Weak By Eating– उम्र बढ़ने के साथ स्किन,  हार्ट और बाल ही नहीं बल्कि हड्डियों के कमजोर होने की समस्‍या भी बढ़ने लगती है. लोग अक्‍सर हड्डी में दर्द और चलते वक्‍त आवाज जैसी परेशानियों के बारे में बात करते हैं, जो कमजोर हड्डियों की ओर इशारा करती हैं. हड्डियों के कमजोर होने का मुख्‍य कारण है शरीर में कैल्शियम और विटामिन डी की कमी. इसके अलावा कई ऐसे फूड आइटम और ड्रिंक्‍स हैं जो हड्डियों को कमजोर बनाने का काम करते हैं. अधिक नमक और चीनी को उपयोग हड्डियों के लिए नुकसानदायक हो सकता है. चीनी और नमक शरीर को कैल्शियम अब्‍जॉर्ब करने से रोकता है जिस वजह से हड्डियां कमजोर हो जाती हैं. चलिए जानते हैं नमक के अलावा क्‍या खाने से हड्डियां कमजोर होती हैं.

अधिक मीठे पदार्थ
हड्डियों को कमजोर बनाने में नमक के साथ चीनी भी बराबर की जिम्‍मेदार मानी जाती है. एवरीडे हेल्‍थ के अनुसार अधिक चीनी का सेवन करने से शरीर को आवश्‍यक पोषक तत्‍व नहीं मिलते. चीनी का अधिक सेवन कैल्शियम को शरीर में अब्‍जॉर्ब करने से रोकता है जो कुछ समय बाद हड्डियों को कमजोर बनाने का कारण बन जाता है. स्‍वीटटुथ को शांत करने के लिए क्रैनबेरी, संतरा और स्‍ट्रॉबेरी जैसे एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर फलों का सेवन कर सकते हैं.

सोडा
बहुत अधिक सोडा का सेवन बोन हेल्‍थ पर नकारात्‍मक प्रभाव डाल सकता है. एक सप्‍ताह में सात या उससे अधिक कोला का प्रयोग शरीर में मिनरल्‍स की कमी और फ्रैक्‍चर का कारण बन सकता है. जिन महिलाओं को हिप पेन की समस्‍या रहती है उन्‍हें हिप फ्रैक्‍चर होने का खतरा भी बढ़ जाता है. सोडा कैसा भी हो ये ओवरऑल हेल्‍थ के लिए नुकसानदायक हो सकता है.
बीन्‍स
बीन्स में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, फाइबर और मैग्‍नीशियम होते हैं जो ऑस्टियोपोरोसिस के लिए फायदेमंद माने जाते हैं लेकिन ये बोन हेल्‍थ को नुकसान पहुंचा सकते हैं. बीन्‍स में फाइटेट्स नामक पदार्थ होता है जो शरीर में कैल्शियम को अब्‍जॉर्ब करने से रोकता है जिस वजह से हड्डियां कमजोर होने लगती हैं. बीन्‍स का सेवन करने से पहले यदि इसे 8 घंटे तक पानी में भिगो दिया जाए तो इसमें मौजूद फाइटेट्स को कम‍ किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ेंः घर में लगाएं ये खास औषधीय पौधे, कई बीमारियों से रहेंगे दूर

कच्‍ची पालक
कच्‍ची पालक से हड्डियों को भरपूर मात्रा में कैल्शियम मिलता है लेकिन इसमें ऑक्‍सालेट्स नामक पदार्थ भी होता है जो शरीर में कैल्शियम को अब्‍जॉर्ब होने से रोकता है. पालक को यदि पका कर या पनीर के साथ मिलाकर सेवन करेंगे तो ये ज्‍यादा फायदेमंद होगा.

इसे भी पढ़ेंः जानें चाय को बार-बार गर्म करके क्यों नहीं पीना चाहिए? क्या है इसके पीछे का कारण

रेड मीट
रेड मीट के अधिक सेवन से हड्डियों से कैल्शियम कम हो सकता है. जिन लोगों को ऑस्टियोपीनिया या ऑस्टियोपोरोसिस की समस्‍या है उन्‍हें रेड मीट का सेवन कम मात्रा में करना चाहिए. ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम के लिए अंडा, फल, सब्जियां, डेयरी प्रोडक्‍ट, चिकन और फिश का सेवन किया जा सकता है. ये फूड आइटम्‍स हड्डियों को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं.

Tags: Food, Health, Lifestyle

Source link

शकीरा ने टैक्स चोरी के आरोपों को बताया झूठा, बोलीं- ‘मेरे पास काफी सबूत हैं’

राजस्थान CET का नोटिफिकेशन जारी, 3000 पदों पर होगी भर्ती, यहां करें आवेदन | rsmssb cet notification 2022 rajasthan cet notification released, government jobs