in

इंडोर प्लांट्स के लिए ऐसे करें घर में खाद तैयार, कभी खराब नही होंगे पौधे

हाइलाइट्स

एप्सम साल्ट का स्प्रे इनडोर प्लांट्स को पीला होने से बचाता है. केले के बेकार छिलके पौधों के लिए बेहतरीन खाद होते हैं. इनडोर प्लांट्स की ग्रोथ बढ़ाने के लिए घर में बनी चाय से चायपत्ती निकलकर इस्तेमाल करें.

Tips to Make Natural Fertilizers at Home : घरों में सुंदर और स्वस्थ पौधे उगाने के लिए और उन्हें लंबे समय तक नए जैसा बनाएं रखने के लिए उनका ख्याल रखना जरूरी होता है. आजकल अधिकतर लोग इनडोर प्लांट्स घरों में लगाना पसंद करते हैं. हालांकि कुछ पौधों को देखरेख की बहुत ज्यादा जरूरत नहीं होती है, लेकिन कई बार पौधे अपने आप सूखने और उनके पत्तियां पीली पड़ने शुरू हो जाती हैं, जिसके कारण पूरा पौधा खराब हो जाता है. ऐसा होने के कई कारण हो सकते हैं जिनमें एक विशेष कारण होता है फर्टिलाइजर यानी खाद. पौधों को पर्याप्त खाद न मिलने के कारण उनकी ग्रोथ रुक जाती है और पौधे खराब होने लगते हैं. इसीलिए आज हम आपके लिए लेकर आए हैं कुछ ऐसे नेचुरल फर्टिलाइजर जो इनडोर प्लांट्स की ग्रोथ बढ़ाने के लिए बेस्ट ऑप्शन हो सकते हैं. आइए जानते हैं,

इनडोर प्लांट्स के लिए घर में ऐसे करें खाद तैयार 

एप्सम साल्ट
इनडोर प्लांट्स में पोषक तत्वों जैसे मैग्नीशियम और सल्फर की कमी होने के कारण उनकी पत्तियां पीली पड़नी शुरू हो जाती हैं. एप्सम सॉल्ट इनडोर प्लांट्स में सभी पोषक तत्वों की कमी को पूरा करता है.
विधि : लगभग 1 लीटर पानी को स्प्रे बोतल में भरकर एक से दो चम्मच एप्सम सॉल्ट मिलाकर एक घोल तैयार कर लें. अब इस घोल को दिन में दो से तीन बार पौधों पर छिड़क दें.

कॉफी ग्राउंड्स
पौधों की ग्रोथ को बढ़ाने के लिए कॉफी ग्राउंड्स का इस्तेमाल काफी कारगर माना जाता है. ये पौधों में नाइट्रोजन की मात्रा को बढ़ावा देने और उन्हें हरा भरा बनाने में सहायक है.
विधि : कॉफी ग्राउंड्स से कंपोस्ट बनाने के लिए आपको कॉफी ग्राउंड को एक कंटेनर में डालकर कुछ दिनों के लिए भिगोकर रख देना है. लगभग 8 से 10 दिन बाद उस पानी को छानकर पौधों में डाल दें.

केले के बेकार छिलके 
हम सभी अक्षर केला खाकर उसके छिलके को इधर-उधर फेंक देते हैं. जबकि केले के छिलके इनडोर प्लांट्स के लिए एक बेहतरीन फर्टिलाइजर का काम कर सकते हैं, केले के छिलके पौधों में नाइट्रोजन, फास्फोरस, पोटेशियम और मैग्नीशियम की मात्रा को बढ़ावा देते हैं.
विधि : केले के छिलके को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर सीधा मिट्टी में डाल दें और उसके ऊपर से थोड़ी मिट्टी और ढक दें. आप केले के छिलके का पेस्ट बनाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

चायपत्ती 
घर में रोज इस्तेमाल की जाने वाली चायपत्ती इनडोर प्लांट्स के लिए एक बेहतरीन खाद होती है, जो पौधों को कई पोषक तत्व प्रदान करती है.
विधि : घर में चाय बनाने के लिए इस्तेमाल की गई चायपत्ती को अच्छी तरह साफ पानी में दो से तीन बार धोकर सुखा लें और हफ्ते में एक बार पौधों में डाल दें.

इसे भी पढ़ें: क्या बालों को सिर्फ पानी से धोना है काफी ? जानिए क्या है सही तथ्य

इसे भी पढ़ें: रिलेशनशिप में हर वक्‍त दूसरे को ब्‍लेम करना खतरनाक, ऐसे निकालें हल

 (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Lifestyle, Plantation

Source link

खास तरह की रिकॉर्डिंग के लिए आदित्य नारायण को झेलनी पड़ी परेशानी, उठाया यह कदम

टीवी सीरियल अनुपमा के सुधांशु पांडे ने ‘श्रापित’ ऑडियोबुक में दी आवाज, साझा किया अपना अनुभव