in

इन 3 तरीकों से करें सिंघाड़े के आटे और साबूदाने की शुद्धता की पहचान

हाइलाइट्स

सिंघाड़े के आटे का पीलापन बताता है इसकी शुद्धता.साबूदाने के आटे की किरकिराहट बताती है कि ये मिलावटी है.

Flour purity test: नवरात्रि नजदीक आ रही है और इस दौरान सिंघाड़े के आटे और साबूदाने जैसी कई चीजों की मांग ज्यादा बढ़ जाती है. मांग बढ़ने के साथ-साथ ही इनमें मिलावट का रिस्क भी बढ़ जाता है, जिससे आपका व्रत टूटने तक का खतरा बन जाता है. हालांकि, दुकानदार कुछ ऐसी चीजों की मिलावट करते हैं, जिससे आप मिलावट और असली चीज में फर्क ही नहीं कर पाते. अगर आप शुद्ध चीज को अपने घर लाना चाहते हैं तो, सिंघाड़े के आटे और साबूदाने जैसी चीजों की शुद्धता की पहचान करने वाली टिप्स का आपको पता होना चाहिए. आइए जानते हैं इन टिप्स के बारे में.

नकली साबूदाने की ऐसे करें पहचान
-अगर दाने के जलाने पर राख नहीं बनती है तो इसका अर्थ है वह असली है और अगर उसमें से धुआं आता है तो वह नकली है.
-अगर आप इसके दाने को मुंह में लेते हैं और उसमें चिपचिपा पन महसूस होता है तो समझ जाएं कि वह असली है, लेकिन अगर इसकी बजाय किरकिरा पन महसूस हो रहा है तो वह नकली हो सकता है.
-अगर साबूदाना असली होगा तो पानी में भीगने के बाद फूल जाएगा और अगर नकली होगा तो वह नहीं फूलेगा.

सिंघाड़े के आटे की पहचान
-अगर इस आटे में दरदरापन महसूस होता है तो वह असली है, लेकिन अगर इसमें चिकनाहट है तो वह मिलावटी है. मैंने उसमें कोई और भी आटा मिलाया गया है जैसे कि अरारोट
-अगर आटे के रंग में हल्का पीलापन है तो वह असली है, लेकिन अगर उसमें सफेदी है तो वह नकली है.
-इसी तरह से अगर आप कोटू का आटा खरीद रहे हैं, वह छूने से चिकना है तो असली है. अगर वह खराब होगा तो उसमें जरूर खुदरापन महसूस करेंगे.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

इसे भी पढ़ें: खाने के बाद पेट में जलन और दर्द से रहते हैं परेशान, तो ये उपाय अपनाएं

इसे भी पढ़ेंः घर में लगाएं ये खास औषधीय पौधे, कई बीमारियों से रहेंगे दूर

Tags: Health, Lifestyle, Navratri, Tips and Tricks

Source link

Godfather Song Out: मेगास्टार चिरंजीवी के साथ डांस करते दिखे सलमान खान, इस फिल्म में बरसाएंगे जमकर गोलियां

Maheep Kapoor का छलका दर्द, बोलीं- ‘हमें कपूर परिवार का सबसे असफल हिस्सा होने का एहसास कराया गया’