in

इन 6 वजहों से हो सकती है लेट पीरियड्स की समस्या

हाइलाइट्स

वजन कम होने से पीरियड्स अनियमित हो सकते हैंआयरन की कमी की वजह से पीरियड्स लेट हो सकते हैं.

Delayed periods-हर महिला को पीरियड्स एक निश्चित समय पर होते हैं. महीने में पीरियड्स की डेट मेंस्ट्रुअल साइकिल पर डिपेंड करती है लेकिन कभी कभी पीरियड्स मिस हो जाते हैं या फिर समय पर नहीं आते तो सबसे पहला ख्याल प्रेगनेंसी की ओर जाता है लेकिन वो महिलाएं क्या करें, जिन्हें हाल फिलहाल में प्रेगनेंसी के कोई चांसेस ही नहीं होते? अब ऐसे में पीरियड्स के लेट लतीफ होने की वजहें पीसीओएस या फिर पीसीओडी हो सकता है.

इसके अलावा भी कई और वजहें पीरियड्स लेट होने का कारण बन सकती हैं. अगर इन वजहों को नजरअंदाज कर दिया गया तो किसी बड़ी समस्या को जन्म दे सकती हैं. ये वजहें कौन सी हैं बिना देर किये, चलिए जान लेते हैं.

स्ट्रेस लेना
हेल्थलाइन के अनुसार शरीर में जब स्ट्रेस का लेवल बढ़ जाता है तो हार्मोंस का लेवल खुद ब खुद बिगड़ जाता है. यही वजह है की स्ट्रेस के कारण पीरियड्स लेट हो सकते हैं. जो महिलाएं ज्यादा स्ट्रेस लेती हैं उन्हें ज्यादा दर्द का भी सामना करना पड़ सकता है.

वजन कम होना
जरूरत से ज्यादा या फिर अचानक से वजन कम होने की वजह से पीरियड्स में लेट हो सकते हैं. इस वजह से जरूरी हार्मोंस का उत्पादन बंद हो जाता है और पीरियड्स अनियमित होने लगते हैं.

यह भी पढ़ेंः फेस्टिव सीजन में इन सुपरफूड्स का करें इस्तेमाल, जानें क्या है शुगर का ऑप्शन?

वजन बढ़ जाना
जिस तरह वजन कम होने से पीरियड्स अनियमित हो सकते हैं, ठीक उसी तरह वजन बढ़ने से भी पीरियड्स अनियमित हो सकते हैं. वजन बढ़ने से शरीर में एस्ट्रोजन काफी ज्यादा प्रभावित होने लगता है. जिस वजह से पीरियड्स भी स्किप होने लगते हैं.

प्रीमेनोपॉज
मेनोपॉज ज्यादातर 50-52 साल की उम्र होता है लेकिन कई महिलाएं मेनोपॉज से 10 से 15 साल पहले ही संकेतो को महसूस कर सकती हैं. जिसे प्रीमेनोपॉज कहा जाता है. इससे एस्ट्रोजन के लेवल में उतार चढ़ाव होने लगता है जिससे पीरियड्स लेट होने लगते हैं.

इसे भी पढ़ें : आपका बच्चा हो सकता है डिप्रेशन का शिकार! इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज

बर्थ कंट्रोल टेबलेट्स
काफी महिलाएं बर्थ कंट्रोल यानि की गर्भ निरोधक टेबलेट्स का सेवन करती हैं. जिस वजह से पीरियड्स लेट हो जाते हैं या मिस हो जाते हैं. इस स्थिति में घबराने से बेहतर है की डॉक्टर की सलाह लें.

इसे भी पढ़ें : कंप्यूटर या मोबाइल देखने से आंखों में होता है दर्द, तो अपनाएं यह 4 घरेलू उपचार

एनीमिया और आयरन की कमी
महिलाओं में एनीमिया और आयरन की कमी की वजह से पीरियड्स लेट हो सकते हैं. अगर किसी महिला में आयरन की कमी है तो इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है.

पीरियड्स लेट होने की ये 6 वजहें हैं, जिन्हें नजरअंदाज करना भारी पड़ सकता है. इन वजहों से निदान के लिए डॉक्टर की सलाह लेना एक बेहतर विकल्प हो सकता है.

Tags: Health, Lifestyle

Source link

80 साल की उम्र में अमिताभ बच्चन कैसे रखते हैं खुद को इतना फिट? बताया क्या-क्या खाना छोड़ दिया है

Akshay Kumar: अक्षय कुमार बनेंगे छत्रपति शिवाजी महाराज रिलीज हुआ मराठी मूवी का फर्स्ट लुक