in

उल्टी और बेचैनी भी हो सकते हैं हाई ब्लड प्रेशर के संकेत, नरअंदाज करने पर हो सकता है खतरा

हाइलाइट्स

WHO के मुताबिक दुनिया भर में 1.28 अरब लोग हाई ब्लड प्रेशर के शिकार हैंअधिकांश लोगों को पता ही नहीं रहता कि उसे हाई ब्लड प्रेशर हैबीपी यदि 180/120 हो जाए तो इसे हाइपरटेंसिव क्राइसिस कहते हैं

high blood pressure: आधुनिक जीवनशैली में हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज बहुत ही आम बीमारी हो गई है. लोग इस पर ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं लेकिन इन दोनों बीमारियों को साइलेंट कीलर कहा जाता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक दुनिया भर में 20 से 79 साल के बीच के 1.28 अरब लोग हाई ब्लड प्रेशर के शिकार हैं. हैरानी की बात यह है कि इनमें से 46 प्रतिशत लोगों को पता ही नहीं है कि उन्हें हाई ब्लड प्रेशर है. आधे से कम ही लोग हाइपरटेंशन का इलाज कराते हैं. एक वयस्क व्यक्ति में यदि ब्लड प्रेशर की माप 140/90 है तो यह हाई ब्लड प्रेशर है. हालांकि इस तरह के व्यक्ति में हाई ब्लड प्रेशर को ठीक किया जा सकता है लेकिन उन्हें इसके बारे में पता नहीं रहता है.

मायो क्लिनिक की वेबसाइट के मुताबिक हाई ब्लड प्रेशर के मरीज का जब अचानक ब्लड प्रेशर 180/120 हो जाए तो इसे हाइपरटेंसिव क्राइसिस कहते हैं. यह एक मेडिकल इमरजेंसी है. इसमें यदि तत्काल मरीज को अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया तो ब्रेन हैमरेज हो सकता है. इसके अलावा किडनी फेल, हार्ट अटैक का खतरा हो सकता है. यह किडनी, दिल, ब्रेन और आंखों के ब्लड वैसल्स और बॉडी ऑर्गन को डैमेज कर सकता है. आमतौर पर ऐसा तब होता है जब व्यक्ति को पता ही नहीं होता कि उसे पहले से ही हाई ब्लड प्रेशर है. ऐसे में यह जानना जरूरी है कि हाइपरटेंसिव क्राइसिस के क्या लक्षण हैं.

हाइपरटेंसिव क्राइसिस के लक्षण
हाई ब्लड प्रेशर हाइपरटेंसिव क्राइसिस में बदल जाता है. लेकिन इससे पहले कुछ लक्षण दिखने लगते हैं. इन लक्षणों को जब व्यक्ति नजरअंदाज करता है तो उसे हाइपरटेंसिव क्राइसिस का सामना करना पड़ता है. हाइपरटेंसिव होने से पहले व्यक्ति में पहले से एंग्जाइटी, छाती में दर्द, तनाव, आंखों से धुंधला दिखाई देना, भ्रम की स्थिति, मतली और उल्टी होना, भयानक सरदर्द, सांस लेने में कठिनाई होना जैसे लक्षण दिखने लगते हैं.

इसका कारण क्या है
बीपी की दवा नहीं कराना या दवा खाना भूल जाना.
हार्ट की दवाइयां नहीं खाना.
कुछ दवाइयों के रिएक्शन से भी कभी-कभी हाइपरटेंसिव हो सकता है.
अगर एड्रीनल ग्लैंड में ट्यूमर हो जाए तो इससे भी हाइपरटेंसिव हो सकता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

अनुष्का शर्मा ने विराट कोहली के साथ बिताया क्वालिटी टाइम, शेयर करते ही वायरल हुईं PHOTOS

500 करोड़ के बजट वाली फिल्म ‘Ponniyin Selvan’ ने रिलीज से पहले ही कर ली मोटी कमाई!