in

कम उम्र में ही आंखों कमजोर बना देती हैं ये बीमारियां, कहीं आपका बच्चा भी तो नहीं है शिकार, दें ध्यान!

Eye Problems in Children: लगभग सभी को उम्र के किसी न किसी पड़ाव में आंख संबंधी दिक्कतें सामने आई है. आखों की ये समस्याएं अगर उम्र के अनुसार हो तो ठीक है लेकिन कई बार काफी कम उम्र में ही दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. पिछले कुछ समय में बच्चों में आंख में पेरशानी के मामले तेजी से बढ़े हैं. अगर हम अपने आसपास गौर करें तो हमें कई ऐसे बच्चे दिखाई देंगें जिनकी उम्र काफी कम है लेकिन उन्हें बिना चश्में के देखने में काफी दिक्कत होती है.

आंखों की रोशनी कम होने समेते कई अन्य समस्याओं के पीछे बहुत से कारण हो सकतें हैं. बच्चों की आंखों में कुछ दिक्कतें आनुवांशिक होती हैं तो कुछ हमारी लापरवाही का नतीजा होती हैं. डिजिटल दुनिया ने बच्चों की आंखों को काफी नुकसान पहुंचाया है. मोबाइल फोन और लैपटॉप के बढ़ते उपयोग ने आंखों को कमजोर बना दिया है और यह समस्या समय के साथ बढ़ती ही जा रही है.

शंकर आई हॉस्पिटल के अनुसार बच्चों को सामान्यतौर पर पांच तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. इन बीमारियों को शुरुआती लक्षण को जानना बहुत जरूरी है ताकि भविष्य के खतरों से बचा जा सके.

बच्चों की आंखों में दिक्कत के लक्षण

आंखों की समस्या वाले बच्चों में कई प्रकार के सामान्य लक्षण दिखाई देते हैं

खराब फोकस की दिक्कत

प्रकाश और तेज रोशनी के प्रति अधिक संवेदनशील होना

पढ़ने में कठिनाई होना

आंखों का लाल हो जाना

क्लासरूम में ब्लैक बोर्ड या दूर की चीज न दिखाई देना

बार-बार आंखों को मलना

टेलीविजन के पास बैठना

मेंटल हेल्थ के लिए घातक है ‘स्ट्रेस’, कंट्रोल करने के लिए अपनाएं ये 7 टिप्स, परफॉर्मेंस में आएगा बड़ा चेंज
बच्चों में आँखों की सामान्य समस्याएं

1- मायोपिया और हाइपरोपिया की समस्याएं
इसमें बच्चों को नजदीक और दूर की चीजों को देखने में दिक्कत होती है. जब बच्चे को दूर की चीज देखने में दिक्कत होती है तो उसे मायोपिया यानी निकट दृष्टि दोष कहते हैं. अगर बच्चे को पास की चीज देखने में दिक्कत होती है तो उसे हाइपरोपिया यानी दूर दृष्टि दोष कहते हैं. इसमें बच्चों को अक्सर सिर दर्द की दिक्कत होती है. पढ़ाई या टीवी देखते समय अधिक जोर देना पड़ता है.

2- पलकों का झुका होना
अगर आपका बच्चे की पलके झुकी हुई नजर आ रही है तो समझ जाइए कि वह किसी न किसी तरह की आंख संबंधी समस्या का सामना कर रहा है. ऐसा सामान्य तौर पलकों को ऊपर ऊठाने वाले मांसपेशियों के कमजोर हो जाने के कारण होता है. ऐसी स्थिति में आंख के अंदर रेटिना तक ठीक प्रकार से रोशनी नहीं पहुंच पाती और कुछ भी देखने में दिक्कत होने लगती है.

World Patient Safety Day 2022: विश्व मरीज सुरक्षा दिवस क्यों मनाया जाता है और क्या है इस बार की थीम, जानिए

3- एंबीलोपिया की शिकायत
एंबीलोपिया को लेजी आई सिंड्रोम भी कहा जाता है. इसमें अक्सर आपका मस्तिष्त ठीक प्रकार से किसी भी इनपुट को पहचानने में विफल हो जाता है. इससे धीरे धीरे आंखों के कमजोर होने की दिक्कत शुरू हो जाती है. इसका एक प्रमुख लक्षण है जब कोई कभी एक आंख बंद करके किसी वस्तु को देखने की कोशिश करता है या फिर वस्तु को कभी दूर या फिर पास रखता है. ऐसी दिक्कतें होने पर आई एक्सपर्ट से जरूर संपर्क करें.

4- आंखों में सूजन आना
आखों में सूजन का बने रहना आंख संबंधी दिक्कत की एक बड़ी पहचान है. ऐसा तब होता है जब पलक के अंदर मौजूद एक ग्रंथि बंद हो जाती है. शुरुआती दिनों में इसके बंद होने से तो कोई खास दिक्कत नहीं होती लेकिन बाद में जब सूजन बढ़ जाती है तो दर्द भी बढ़ने लगता है. इसमें आखों में जलन भी होती है और किसी भी चीज पर फोकस कर पाना मुश्किल होता है.

5- एपिफोरा की समस्या
सामान्यतौर पर आंसू किसी भी तरह से आंख को नुकसान नहीं पहुंचाते, बल्कि जब कोई चीज हमारे आंख में चली जाती है तो आंसू ही हमारी रक्षा करते हैं. लेकिन किसी भी चीज की अधिकता काफी खराब होती है. उसी तरह अधिक आंसू निकलना भी स्वास्थ्य के लिए हानिकार है. एपिफोरा एक ऐसी बीमारी है जिसमें बच्चे की आंख से लगातार पानी निकलता रहता है. यह समस्या आंसू की जो कोशिकाएं होती है उसमें किसी तरह की रुकावट या फिर आंखों में किसी संक्रमण की वजह से होता है.

एपिफोरा की समस्या में पलकों में सूजन आ जाती है. आंखें लाल होने लगती है और साथ ही जलन की दिक्कत भी होती है. लगातार आंसू बहने से किसी भी चीज में फोकस नहीं हो पाता और दूर की चीजें धुंधली नजर आने लगती हैं.

कार्टिकल दृष्टि दोष (Cortical Visual Impairment)
आंख संबंधी यह बीमारी बच्चे के मस्तिष्क को जुड़ी होती है. इसमें आंख तो ठीक होती है लेकिन जब बच्चा किसी चीज को देखता है तो मस्तिष्क उसकी ठीक प्रकार के व्याख्या नहीं कर पाता और यह सामान्य दृष्टि को रोकता है.

Tags: Child Care, Health, Health problems

Source link

Entertainment 5 Positive News: आलिया-रणबीर से कृति-प्रभास तक, इन पॉजिटिव खबरों के साथ शुरू करें दिन

Malvika Raaj B’day Spl: मालविका का अभिनेत्री अनिता राज से है खास रिश्ता, जानें बर्थडे गर्ल के लाइफ सीक्रेट्स