in

घर की छत पर भी उगा सकते हैं पपीते का पेड़, फॉलो करें ये आसान टिप्स

हाइलाइट्स

पौधे में पानी और कीटनाशक स्प्रे का छिड़काव करते रहें.पौधे में जैविक खाद और सही बीज का उपयोग करें.पपीते के पौधे को लगाने से पहले मिट्टी तैयार कर लें .

Tips to Plant Papaya at Home : पपीता फल के रूप में खाएं या सब्जी के रूप में, भारतीय घरों में ये सबसे पसंदीदा और पौष्टिक खाद्य विकल्प माना जाता है. पपीता किसी भी रूप में सेवन किया जाने पर बॉडी और सेहत के लिए फायदेमंद होता है. पपीते का सेवन करने से पेट सही रहता है और ये डाइजेशन में काफी अच्छा होता है. पपीता पोटैशियम, विटामिन ए, फाइबर के साथ साथ कई अन्य प्रोटीन और पोषक तत्वों से भरपूर होता है. जिनसे बॉडी में एनर्जी और पोटेंशियल बढ़ता है. यही कारण है की अधिकांश लोग अपने घरों में ही पपीता का पेड़ लगाते हैं ताकि इच्छानुसार पपीता का आनंद लिया जा सके, तो आप भी अपने घर के बागान में या छत पर पपीता का पेड़ लगा सकते हैं, आइए जानते हैं लगाने का आसान तरीका.

घर में पपीते का पेड़ लगाने के लिए फॉलो करें ये टिप्स :
सही बीज और खाद का चुनाव
पौधे की सही ग्रोथ के लिए अच्छे बीज और खाद का चुनाव बहुत जरूरी है, अगर बीज अच्छा नहीं होगा तो पौधे की ग्रोथ नहीं होगी, बिना पोषक तत्वों के पौधे ज्यादा समय तक जीवित नही रह पाते हैं. इसलिए गमले वाले पौधे के लिए 8 से 10 फीट ऊंचा होने वाला और बिना गमले के लिए 5 से 7 फीट ऊंचा होने वाला बीज का चुनाव करें और इस पौधे के लिए जैविक खाद का ही इस्तेमाल करें, केमिकल युक्त खाद के प्रयोग से बचें.

मिट्टी तैयार करें
बीज लगाने वाले स्थान की मिट्टी को एक दिन पहले खोदकर छोड़ दें और अगले दिन उस मिट्टी में अच्छे से खाद मिक्स करें और इसके बाद बीज को मिट्टी में 2-3 इंच गहरा दबाकर और पानी डालकर छोड़ दें, अगर यह पौधा गमले में लगाना है तो गमले के मिट्टी में खाद मिक्स करें और और मिट्टी डालने से पहले 1 इंच गहरा बीज डालें और मिट्टी डालकर एक दो मग पानी डाल दें.

कीटनाशक स्प्रे का प्रयोग
पपीते के पौधे को कीड़ों, मकोड़ों से बचाने के लिए नींबू के रस, नीम के पत्ते, पुदीना के पत्ते और बेकिंग सोडा से बना हुआ घरेलू कीटनाशक स्प्रे या केमिकल कीटनाशक स्प्रे का सप्ताह में दो तीन बार जरूर छिड़काव करें.

सिंचाई का ध्यान रखें
पौधा लगाने के बाद भी उसका ध्यान रखना चाहिए, इसके लिए समय-समय पर पौधे में पानी डालते रहे और सिंचाई करते रहें ताकि पौधे को ग्रोथ में कोई परेशानी न हो और आसपास उगने वाले जंगली घासों को साफ करते रहें, जिसके बाद आप कुछ समय बाद पपीते का सेवन फल और सब्जी दोनों के रूप कर सकेंगे.

यह भी पढ़ें: Health Tips: जिम शुरू करने से पहले इन बातों का रखें ध्यान, वरना हो सकते हैं परेशान

यह भी पढ़ें: Health Tips: क्या डायबिटीज के पेशेंट खा सकते हैं मौसमी फल? जानें एक्सपर्ट की राय

Tags: Lifestyle, Plantation, Tips and Tricks

Source link

Social Talent: ‘पेपर क्वीन’ के नाम से फेमस हैं अपेक्षा राय, अखबार से बना डालती हैं अतरंगी ड्रेस

Akshara Singh MMS! अक्षरा सिंह का एमएमएस हुआ लीक! जानें क्या है वायरल वीडियो की सच्चाई?