in

चारु असोपा और राजीव सेन फिर तलाक के लिए तैयार, सितंबर में उनके पैच-अप के बाद क्या गड़बड़ हुई?

नई दिल्ली: चारु असोपा (Charu Asopa) और राजीव सेन (Rajeev Sen) ने दो हफ्ते पहले इंस्टाग्राम पर एक-दूसरे को अनफॉलो करके अपने मतभेदों को दुनिया के सामने जाहिर कर दिया था. ऐसा नहीं है कि इस कपल ने पहले ऐसा नहीं किया था, लेकिन इस बार यह उनके पैच-अप के बाद हुआ. दोनों ने न सिर्फ एक-दूसरे को अनफॉलो कर दिया, बल्कि साथ में अपनी फैमिली फोटोज भी हटा दीं. यह पहली बार नहीं है, जब उन्होंने एक-दूसरे के साथ अपने पोस्ट को आर्काइव किया है. जब से उनकी शादी हुई है, तब से उनके बीच कई बार झगड़े हुए हैं.

चारु ने बीटी को बताया था, ‘राजीव हर झगड़े के बाद हफ्तों या महीनों के लिए गायब हो जाते थे और मुझे संपर्क के सभी मीडियम से ब्लॉक कर देते थे, ताकि मैं उन तक न पहुंच सकूं या उनके ठिकाने का पता न लगा सकूं. उन्होंने लॉकडाउन से कुछ दिन पहले मुझे तीन महीने के लिए छोड़ दिया था. मैं उस दौरान अकेली थी. मुझे एहसास हुआ कि वे 45 साल के हैं और मैं उन्हें बदल नहीं सकती. हमारे बीच कई समस्याएं हैं, पर मैं उम्मीद कर रही थी कि बेटी जियाना के खातिर हम इन्हें दूर कर लेंगे, पर ऐसा नहीं हुआ.’

राजीव ने बीटी को बताया था, ‘यह आरोप पूरी तरह से बकवास हैं, क्योंकि वे जानती थीं कि मैं कहां था, बल्कि कई मौकों पर, उन्होंने मुझे बताए बिना मुंबई छोड़ दिया था. मुझे उनके बारे में ऑनलाइन वीडियो के जरिये पता चला.’

चारू ने हाल में बीटी को बताया, ‘राजीव गाली देते हैं और यहां तक ​​कि उन्होंने एक या दो बार मुझ पर हाथ भी उठाया. वे मुझ पर धोखा देने का शक करते हैं. जब मैं ‘अकबर का बल बीरबल’ की शूटिंग कर रही थी, तो उन्होंने मेरे को-एक्टर को मैसेज भेजा कि वे मुझसे दूर रहें. मेरे लिए काम करना मुश्किल हो गया था. मुझे लगता है कि वे मुझे धोखा दे रहे थे, लेकिन यह कुछ ऐसा है जिसे मैं साबित नहीं कर सकती.’

राजीव ने कहा, ‘दो दुखी लोग एक साथ रह रहे हैं और एक सुंदर बेटी होने के बाद भी चीजों को बेहतर बनाने की कोशिश नहीं कर पा रहे हैं. मैं कहूंगा कि हम दोनों इस स्तर तक पहुंचने के लिए समान रूप से जिम्मेदार हैं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने उन्हें खुशी देने और जीवन भर के लिए साथी बनने के लिए उनसे शादी की थी.

चारु ने दावा किया कि वे बेटी जियाना को आर्थिक रूप से सपोर्ट नहीं करना चाहते हैं. इस पर राजीव ने कहा, ‘मैंने अपने वकीलों के जरिये चारु को भेजे गए कई कानूनी नोटिसों में कभी यह जिक्र नहीं किया था कि मैं अपनी बेटी की आर्थिक रूप से केयर नहीं करूंगा. वास्तव में, मैंने बताया कि भले ही मेरी पत्नी कोई गुजारा भत्ता नहीं चाहती हैं, फिर भी मैं अपनी बेटी की आर्थिक रूप से देखभाल करना चाहता हूं और उसकी शिक्षा को हर मुमकिन तरीके से संभालना चाहता हूं.’

Tags: Charu asopa, Rajeev Sen

Source link

Zink deficiency: जिंक की कमी से स्किन, आंख, इंफर्टिलिटी और बालों की समस्या एक साथ आ सकती है, इन फूड से करें मैनेज

इन 5 सुपर हेल्दी बीन्स को डाइट में शामिल करने से मिलेंगे जरूरी पोषक तत्व