in

जानिए क्या है हाइपोथायरायडिज्म और इससे बचने के लिए कैसी होनी चाहिए डाइट

हाइलाइट्स

आयोडीन, थायराइड हार्मोन बनाने के लिए आवश्यक तत्व है. हाइपोथायरायडिज्म से बचने के लिए विटामिन और मिनरल्स से भरपूर डाइट लें.हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन सेलुलर क्षति से बचाता है जिससे थायराइड की स्थिति सुधरती है.

Healthy Diet of Hypothyroidism : हाइपोथायरायडिज्म की समस्या बहुत से लोगों के लिए बड़ी परेशानी बन गई है. जब आपका शरीर पर्याप्त थायराइड हार्मोन नहीं बनाता, तब इसकी कमी से हाइपोथायरायडिज्म की समस्या होती है. इसकी वजह से शरीर में कई तरह की परेशानियां होने लगती हैं, जैसे इंसोमेनिया, हार्ट रेट फ्लकचुएट होना, वजन बढ़ना, कमज़ोरी होना और कब्ज़, लेकिन इससे परेशान होने की जरूरत नहीं है, इस समस्या का पहला और सबसे आसान समाधान दवाएं हो सकती हैं, जो हाइपोथायरायडिज्म और उसके लक्षणों को कम करती हैं और अगर वो नहीं तो फिर बड़े बुजुर्ग तो कह ही गए हैं की स्वस्थ भोजन बीमारियों से लड़ने का सबसे असरदार उपाय है. स्वस्थ आहर ही स्वस्थ शरीर की पहचान होती है. आइए जानते हैं, हाइपोथायरायडिज्म से बचने के लिए कैसी होनी चाहिए डाइट.

हाइपोथायरायडिज्म की डाइट कैसी होनी चाहिए :
न्यूट्रिएंट रिच फूड खाएं :
हेल्थ लाइन डॉट कॉम के अनुसार हाइपोथायरायडिज्म की समस्या को कम करने के लिए विटामिन और मिनरल्स से भरपूर खाना खाया जाना चाहिए, जिससे बॉडी को पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी, बी12, मैग्नीशियम और आयरन मिल सके. ऐसे फूड्स इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाने में मदद करते हैं और आपकी हड्डियों को भी मजबूत बनाते हैं.

आयोडीन का सेवन :
आयोडीन शरीर के लिए बहुत जरूरी तत्त्व है, जो थायराइड हार्मोन बनाने के लिए आवश्यक है. आवश्यकता से कम आयोडीन का सेवन करने से हाइपोथायरायडिज्म होने का जोखिम बढ़ जाता है, साथ ही इस बात का भी ध्यान रखना है की जरूरत से ज्यादा आयोडीन का सेवन सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है.

हरी पत्तेदार सब्जियां :
हाइपोथायरायडिज्म से बचने के लिए हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए. हरी पत्तेदार सब्जियों के सेवन से आप सेलुलर क्षति से बच सकते हैं, साथ ही अगर आपको थायराइड की समस्या है तो हरी पत्तेदार सब्जियों के सेवन से ये परेशानी भी कम हो सकती है. ब्रोकोली, ब्रसेल्स, स्प्राउट्स, फूलगोभी और शलजम आदि का सेवन भी हाइपोथायरायडिज्म में फायदेमंद साबित हो सकता है.

सेलेनियम :
सार्डिन, अंडे और टूना जैसे सेलेनियम से भरपूर फूड आइटम्स हाइपोथायरायडिज्म से बचने में आपकी मदद कर सकते हैं. सेलेनियम थायराइड हार्मोन बनाने में बॉडी की मदद करता है, साथ ही थायराइड को ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से भी बचाता है. ध्यान देने वाली बात ये है की सेलेनियम का ज्यादा सेवन करना हेयर लॉस से लेकर हार्ट अटैक तक का भी कारण बन सकता है.

इसे भी पढ़ेंः दिन में एक बार जरूर पिएं करेले का जूस, कई शारीरिक समस्याओं से मिलेगी मुक्ति

इसे भी पढ़ें- डायबिटिक हैं तो तुरंत स्मोकिंग छोड़ दीजिए, वरना कई गुना बढ़ सकता है मौत का खतरा, जानिए रिसर्च

Tags: Health, Lifestyle

Source link

अदिति और करणवीर शर्मा नए शो में करेंगे रोमांस, खुद बताई कहानी, देखें प्रोमो

सिद्धांत चतुर्वेदी को सैंकड़ों फीमेल फैंस ने घेरा, तो बचाव में आए सिक्योरिटी गार्ड- देखें VIDEO