in

कोरोना से बचने के लिए इम्यूनिटी कैसे बढ़ाये?

How to increase Immunity to prevent Coronavirus?

How to increase Immunity to prevent Coronavirus?

कोरोना वायरस ने दुनिया भर में आठ हजार से ज्यादा लोगों की जान ले ली है। कोरोना वायरस पर अभी तक कोई दवा नहीं मिली है। लेकिन कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या तीन प्रतिशत है।

कुछ लोग कोरोना वायरस से सफलतापूर्वक लड़ सकते हैं और कुछ ने बीमारी के आगे घुटने टेक दिए हैं।
इसका कारन क्या है। तो इसके पीछे हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली(immunity system) कारन है।

कोरोना वायरस के कारण होने वाली बीमारी को कोव्हिड-१९ नाम दिया गया है। इस बीमारी पर अभी तक कोई दवा नहीं मिली है। दुनिया में अब तक लगभग ८००० से ज्यादा लोग मारे गए हैं। लेकिन साथ ही, हर दिन हजारों लोग अस्पताल से ठीक हो रहे हैं।

दवाई के बिना कोरोना के मरीज कैसे ठीक हो जाते हैं? How do corona recovery without medication?

कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या लगभग ३ प्रतिशत है। इसका मतलब है कि १०० लोगों को कोरोना संक्रमण हुआ है तो उसमे से ३ लोगो की मृत्यु हो जाती हैं, लेकिन ९७ लोग पूरी तरह से ठीक होकर घर वापिस है।

इनमें से लगभग ९७ प्रतिशत लोग अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली के कारण ठीक हो जाते हैं। अब देखते हैं कि यह क्षमता क्या है और क्या इसे बढ़ाया जा सकता है।

जब किसी भी तरह का सूक्ष्मजीव हमारे शरीर पर हमला करते हैं, तो हम बीमार हो जाते हैं। इस तरह के हमले लगातार हमारे साथ होते रहते हैं। हमारे शरीर में इन हमलों को रोकने के लिए एक प्रणाली बनी हुई है। इसे ही प्रतिरक्षा कहा जाता है। अंग्रेजी में इसे इम्युनिटी(immunity system) कहा जाता है।

immune-system

यदि यह प्रणाली मजबूत है, तो आप हमला होने पर भी बीमार नहीं पड़ेंगे। लेकिन अगर यह प्रणाली कमजोर है या हमलावर सूक्ष्मजीव मजबूत है, तो हम बीमार हो जाते हैं।

बीमार होने पर भी दवा की जरूरत नहीं होती । क्योंकि हमारा इम्यून सिस्टम इन बीमारियों से लड़ रहा होता है। इसलिए, एक वायरल संक्रमण के बाद, आपको पहले बुखार आ जाता है, ठंड लग जाती है। लेकिन अगर हम दवा नहीं लेते हैं, तो हम कुछ दिनों में ठीक हो सकते हैं। लेकिन कोरोना की कहानी अलग है

कोरोना वायरस का बचाव कैसे किया जाता है? How is the coronavirus defended?

हमारे शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली मतलब शरीर में सफेद कोशिकाएं होती हैं। इसे अंग्रेजी में WBC या व्हाईट ब्लड कॉर्पसल्स कहा जाता है। वे हमारे शरीर में पुलिस की तरह काम करते हैं।

ये कोशिकाएं आपको बीमार होने से बचाने के लिए दिन रात लड़ती रहती हैं। जब हम सोये हुए होते हैं तब भी ये कोशिकाएँ काम करती रहती हैं।
हमारे शरीर में अरबों सफ़ेद कोशिकाएँ होती हैं। हमारे शरीर में हर दिन लगभग 100 अरब सफ़ेद कोशिकाओं का उत्पादन होता है

white-blood-cell

जब भी कोई सूक्ष्मजीव हमारे शरीर में प्रवेश करता है। उदाहरण के लिए, आपके पास एक कोरोना मरीज छींकता है। फिर वायरस आपकी नाक से होकर आपके शरीर में जाएगा।

शरीर में सफेद कोशिकाओं को यह संदेश मिलता है कि कोई दुश्मन हमारे सिस्टम में आ गया है। तो सफेद कोशिकाएं तुरंत विशिष्ट एंटीबॉडी(antibody) का उत्पादन करती हैं, जो उन विशिष्ट सूक्ष्मजीवों से लड़ती हैं। इस प्रक्रिया को पूरा होने में कुछ दिन लगते हैं। इसलिए जब तक यह प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती, आप बीमार महसूस करते हैं।

लेकिन कोरोना वायरस हमारे शरीर के लिए नया है। वायरस ‘झूनॉटिक’ है। अर्थात्, यह पशु शरीर से मनुष्यों में आता है।

तो आपका सिस्टम पूरी तरह से इस नए वायरस का पता लगाने या इसके साथ दो हाथ करने के लिए पूरी तरह से सुसज्जित नहीं है। जिनके पास एक अच्छी प्रतिरक्षा प्रणाली है, वे वायरस से लड़ सकते हैं।

विशेषज्ञों का तर्क है कि कोव्हिड-19 एक बहुत नया वायरस है होने के कारन, हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली इसकी उपस्थिति का पता लगाने में काम पड रही है।

“कोव्हिड-१९” वायरस की सतह, संरचना अलग है।
इस वायरस के उत्परिवर्तन के कारण, प्रतिरक्षा प्रणाली इसकी हमारे शरीर में उपस्थिति नोटिस नहीं कर पाती है।
यह एक विदेशी दुश्मन है, ”परभणी के डी.एस.एम कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी के प्रोफेसर डॉ. शिवा आयथॉल कहते हैं।

वह आगे कहते हैं, “कई कारण हैं कि कुछ लोगों में उच्च प्रतिरक्षा स्तर होता है और कुछ लोगों में कम होता है। आनुवांशिकी, आहार, जीवन शैली, आयु, आदि हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को प्रभावित करते हैं।”

immune-system

प्रतिरक्षा प्रणाली कैसे बढ़ती है? How does the Immune system grow?

यदि आप कोरोना से खुद को बचाना चाहते हैं, तो आपके पास प्रतिरक्षा में सुधार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।

हार्वर्ड विश्वविद्यालय में प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वाभाविक रूप से बढ़ाने के लिए कुछ दिशानिर्देश हैं। आप उनमें से अधिकांश को जानते हैं, लेकिन अब उन्हें केवल जानने के लिए नहीं रखें, बल्कि उन पर काम करें।

boost-immunity-system-foods

आहार में फल और सब्जियों का अत्यधिक सेवन, साथ ही नियमित व्यायाम, पैदल चलना, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ा सकता है।

एक संतुलित आहार, पर्याप्त नींद लेने से स्वास्थ्य अच्छा रहता है। हार्वर्ड मेडिकल कॉलेज ने अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए तनाव न लेने की सलाह दी है।

What do you think?

702 points
Upvote Downvote

Milk and Turmeric Benefits : रोजाना 1 चम्मच हल्दी को दूध में मिलाकर पीएं, पास नहीं आएगी ये बीमारी

Drink For Good Sleep : वर्क फ्रॉम होम के बाद लेना चाहते हैं गहरी नींद तो, दूध में 2 बादाम मिलाकर बनाएं ये ड्रिंक

Drink For Good Sleep : वर्क फ्रॉम होम के बाद लेना चाहते हैं गहरी नींद तो, दूध में 2 बादाम मिलाकर बनाएं ये ड्रिंक