in

डायबिटीज में हॉट शॉवर से बढ़ सकती है स्किन प्रॉब्‍लम, जानें इससे छुटकारा पाने का तरीका

हाइलाइट्स

डायबिटीज में स्किन हो सकती है बेहद संवेदनशील. डायबिटीज में हॉट शॉवर लेने से बचना चाहिए.डायबिटीज में हाइजीन का विशेष ध्‍यान रखने की जरूरत होती है.

How To Get Rid Of Skin Problem In Diabetes-  डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो कई समस्‍याओं को जन्‍म देती है. विजन प्रॉब्‍लम,  वेट लॉस, लंग्‍स प्रॉब्‍लम, डैमेज हेयर के अलावा स्किन प्रॉब्‍लम के लिए डायबिटीज जिम्‍मेदार हो सकती है. डायबिटीज के मरीजों को स्किन से जुड़ी समस्‍याएं होना सामान्‍य है. लगभग 30 प्रतिशत डायबिटिक पेशेंट्स में स्किन प्रॉब्‍लम पाई जाती है. डायबिटीज में शरीर की हीलिंग पॉवर कम हो जाती है जिस वजह से किसी भी प्रकार की चोट, खांसी या स्किन संबंधी समस्‍या को ठीक होने में समय लगता है.

स्किन प्रॉब्‍लम के लक्षण डायबिटीज की शुरुआत में ही दिखाई देने लगते हैं. स्‍किन प्रॉब्‍लम होने पर शरीर के किसी भी हिस्‍से में पीले, लाल या भूरे रंग के धब्‍बे, सख्‍त व मोटी स्किन, इंफेक्‍शन, फफोले और खुजली जैसे लक्षण देखे जा सकते हैं. डायबिटीज होने पर हॉट शॉवर लेने से भी स्किन संबंधी समस्‍या बढ़ सकती है. स्किन प्रॉब्‍लम से छुटकारा पाने के लिए उसकी सही देखभाल बेहद जरूरी है. साथ ही स्किन को इंफेक्‍शन से बचाने के लिए सावधानी बरती जा सकती है.

हाइजीन पर दें ध्‍यान
स्‍किन की समस्‍याओं से छुटकारा पाने के लिए सबसे अहम है हाइजीन. ओनली माई हेल्‍थ के अनुसार स्किन को साफ और ड्राई रखने से स्किन को डैमेज होने से बचाया जा सकता है. विशेषतौर पर अंडरआर्म्‍स, ब्रेस्‍ट के नीचे, पैर की उंगलियों के बीच और ग्रोइन क्षेत्रों को अधिक साफ रखने की आवश्‍यकता है. स्किन पर अधिक साबुन और शॉवर जैल का प्रयोग न करें अन्‍यथा स्किन ड्राई हो सकती है.

हॉट शॉवर से बचें
हॉट शॉवर से स्किन पर जलन और लाल चकत्‍ते हो सकते हैं. गर्म पानी के प्रयोग से स्किन में मौजूद प्राकृतिक तेल और प्रोटीन नष्‍ट हो जाता है जिससे स्किन अधिक ड्राई और खुजली वाली हो सकती है. कई बार हॉट शॉवर से स्किन छिल भी जाती है. नमी वाले मौसम में दो बार नहाएं ताकि स्‍किन को इंफेक्‍शन से बचाया जा सके. जहां तक हो सके डायबिटीज में हॉट शॉवर को अवॉइड करें.

यह भी पढ़ेंः ‘मौसम की तरह तुम भी बदल तो न जाओगे’, सिर्फ गाना नहीं हकीकत है !

स्किन को रखें मॉइस्‍चराइज
स्किन को मॉइस्‍चराइज रखने से कई समस्‍याओं को कम किया जा सकता है. प्रति‍दिन स्किन को मॉइस्‍चराइज करने से स्किन को ड्राइनेस से बचाया जा सकता है. स्किन के सेल्‍स को रिन्‍यू करने के लिए अच्‍छी क्‍वालिटी का मॉइस्‍चराइजर का इस्‍तेमाल करना जरूरी होता है. अधिक ड्राई स्‍किन होने पर स्किन एलर्जी का खतरा भी बढ़ जाता है.

यह भी पढ़ेंः हार्ट की सर्जरी के बाद जिम खतरनाक ! भूलकर भी न करें ये गलतियां 

चोट का करें तुरंत उपचार
डायबिटीज होने पर स्किन काफी संवेदनशील हो जाती है जिस वजह से चोट लगने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. डायबिटीज में चोट को ठीक होने में काफी समय लगता है इसलिए समय रहते इसका सही उपचार कराना आवश्‍यक होता है. चोट को ठीक करने के लिए एंटीबायोटिक का प्रयोग किया जा सकता है.

Tags: Diabetes, Health, Lifestyle, Skin care

Source link

Jr NTR in Japan: RRR स्टार जूनियर एनटीआर को देख रो पड़े जापानी फैंस, वीडियो देख लोग बोले- ये है असली हीरो

Bigg Boss 16: सलमान खान को हुआ डेंगू नहीं करेंगे बिग बॉस 16 को होस्ट कैंसिल की शूटिंग