in

थायराइड से हैं परेशान! घर पर अपनाएं ये 5 आसान उपाय, सूजन की समस्या से जल्द मिलेगी राहत

हाइलाइट्स

थायराइड की समस्या होने पर आपको चीनी युक्त पदार्थों से दूरी बना लेनी चाहिए.अगर आप नारियल के तेल की हल्के हाथों से मालिश करते हैं तो थायराइड से राहत मिलती है.

Natural Remedies for Hypothyroidism, Remedies for Thyroid: पिछले कुछ समय में थायराइड के मामलों तेजी से बढ़ोतरी हुई है. थायराइड की वजह से लोगों को कई तरह की अलग अलग बीमारियों का भी सामना करना पड़ा है. थायराइड ग्लैंड हमारी गर्दन के पिछले हिस्से में होती है और यह हमारे शरीर के मोटाबॉलिज्म को कंट्रोल करता है. आमतौर पर थायराइड में दो तरह की समस्याएं देखने को मिलती है जिसमें एक है हाइपोथायरायिज्म और दूसरा है हाइपरथायरायडिज्म.

हाइपोथायरायडिज्म को अंडरएक्टिव थायराइड कहा जाता है. यह तब होता है जब किसी व्यक्ति में थायराइड हार्मोन की अपर्याप्त मात्रा होती है. वहीं पर हाइपरथायरायडिज्म जिसे अति सक्रिय थायरॉड कहा जाता है तब होता है जब शरीर बहुत अधिक मात्रा में थायराइड हार्मोन का उत्पादन करता है. हाइपोथायरायडिज्म की स्थिति में लोग मोटे होने लगते हैं.

थायराइड की समस्या पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में अधिक देखी जाती है. महिलाओं में इस बीमारी की शुरुआत 30 वर्ष की उम्र के करीब शुरू हो जाती है लेकिन इसके सामान्य लक्षण 50 की उम्र के बाद दिखने लगते हैं. अगर आप भी थायराइड की समस्या से पीड़ित हैं तो आपको कुछ घरेलू उपाय अपना सकती है जिनकी ममद से आप थाइराइड को कम कर सकती हैं.

वर्कप्लेस पर कुछ हेल्दी खाना चाहते हैं? डाइट में शामिल करें तरह-तरह के सलाद

नारियल का तेल करें इस्तेमाल
अगर आप थायराइड की समस्या से पीड़ित हैं तो आप नारियल के तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं. नारियल के तेल में पाए जाने वाले मीडियम-चेन फैटी एसिड थायराइड ग्रंथि में काफी अच्छा काम करता है. ध्यान रहे कि नारियल के तेल का प्रयोग बिना गर्म किए हुए करना है. यह तेल मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और साथ ही शरीर के तापमान को भी नियंत्रित करता है. यह वजन घटना में भी सहायक है.

शुगर फ्री डाइट
थायराइड की समस्या होने पर आपको चीनी युक्त पदार्थों से दूरी बना लेनी चाहिए. शुगर और प्रोसेस्ड फूड शरीर में सूजन पैदा करते हैं. सूजन की वजह से एक अन्य थायराइड हार्मोन ट्राई आयोडोथायरोनिन का T4 में रूपांतरण धीमा हो सकता है. इसलिए शुगर युक्त पदार्थों से बचें.

विटामिन बी12
शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी12 की कमी की वजह से भी थायराइड हार्मोन प्रभावित हो सकते हैं. जरूरी है कि आप ब्लड टेस्ट कराएं और पता करें कि क्या आपको बिटामिन बी 12 की मात्रा बढ़ाने की जरूरत है कि नहीं. विटामिन बी12 से थायराइड के कुछ नुकसान से बचा जा सकता है.

ग्लूटेन के इस्तेमाल से बचें
ग्लूटेन एक प्रोटीन होता है. अगर आप थायराइड की समस्या से पीड़ित हैं तो आपको ग्लूटेन युक्त खाद्य पदार्थों से भी दूरी बनानी चाहिए. आजकल सोशल मीडिया में ग्लूटेन फ्री डाइट काफी चर्चा में है. ग्लूटेन डायबिटीज, वजन का बढ़ना और थायराइड जैसी कई बीमारियों के लिए जिम्मेदार माना जाता है. ग्लूटेन प्रोटीन आमतौर पर गेहूं, सूजी में अधिक पाया जाता है.

नियमित रूप से करें व्यायाम
अच्छे स्वास्थ्य के लिए व्यायाम सबसे बड़ा रामबाड़ इलाज है. नियमित रूप से व्यायाम शरीर में अंगों के संचालन को बढ़ावा देता है. एक्सरसाइज अंत: स्त्रावी ग्रंथि को नियंत्रित करता है और आपको फ्रेश फील कराता है. व्यायाम शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को खत्म करने में भी मदद करता है. अगर आप एक फिक्स टाइम से व्यायाम करते हैं तो आपको थायराइड में जरूर आराम मिलेगा.

Tags: Health News, Healthy Diet, Lifestyle

Source link

ब्लैक एंड बोल्ड ड्रेस में फोटो डाल श्रद्धा कपूर ने मचाई हलचल, ट्विटर पर करने लगी ट्रेंड

PM Modi Birthday: आम आदमी कैसे बना देश का प्रधानमंत्री जरूर देखें नरेंद्र मोदी पर बनी यह फिल्में