in

पिता से बात करते समय इन बातों का रखें खास ख्याल, भूलकर भी न करें पिता से ये मजाक

हाइलाइट्स

पिता से कभी न कहें हमारे जमाने की बात आपकी समझ में नहीं आएगी. पिता से दिमाग बूढ़ा होने या हड्डियां कमजोर होने जैसी बातें बिल्कुल न करें.

Relationship with Father: आमतौर पर सभी बच्चे अपने पेरेंट्स के काफी क्लोज होते है. ऐसे में ज्यादातर बच्चे माता-पिता से सारी बातें शेयर करते हैं. तो वहीं कई बार बच्चे पेरेंट्स के साथ मौज-मस्ती करने के साथ-साथ खूब हंसी मजाक करने से भी नहीं हिचकिचाते हैं. बेशक सभी पेरेंट्स अपने बच्चों से बेहद प्यार करते हैं. मगर बच्चे कई बार मजाक में पिता को अक्सर कुछ बातें बोल देते हैं. जिसके काराण आपके फादर (Father) काफी हर्ट हो सकते हैं.

दरअसल फादर के साथ बच्चों का रिश्ता काफी स्पेशल होता है. ऐसे में कभी बच्चों को पिता की डांट-फटकार और गुस्से से डर लगता है. तो कई बार फादर के फ्रेंडली होने पर बच्चे उनसे खुलकर हंसी मजाक भी कर लेते हैं. हालांकि मजाक के दौरान बच्चों की कुछ बातें पिता को दुखी भी कर सकती हैं. वहीं मजाक करते समय इन बातों को अवॉयड करके आप पिता को हर्ट होने से बचा सकते हैं.

न करें उनका जमाना चले जाने की बात
कई बार बच्चे मजाक में पिता से बोल देते हैं कि पापा अब आपका जमाना गया. बेशक ये बोलकर आप पिता को उदास नहीं करना चाहते हैं. मगर आपकी ये लाइन आपके पिता को काफी हर्ट कर सकती है. इसलिए पिता से मजाक में भी ये बात बिल्कुल न बोलें.

ये भी पढ़ें: Dhanteras 2022: धनतेरस पर करीबियों को दें ये शानदार तोहफे, अपनों के लिए इस पर्व को बनाएं खास

बुढ़ापा याद दिलाने से बचें
बुढ़ापे में पेरेंट्स अक्सर फिजिकली और मेंटली वीक होने लगते हैं. ऐसे में बच्चे अक्सर पिता को दिमाग बूढ़ा होने या हड्डियां कमजोर होने की बात कहते रहते हैं. जिससे आपके पिता ये बातें सुनकर दुखी हो सकते हैं. इसलिए पिता को बार-बार बूढ़े होने का अहसास दिलाने से बचें और उन्हें लाइफ में नई चीजें ट्राई करने के लिए प्रोत्साहित करें.

पिता को कोसने से बचें
कई बार बच्चे अपनी लाइफ की गलतियों के लिए माता-पिता को दोषी ठहरा देते हैं. वैसे तो पेरेंट्स अपनी पूरी जिंदगी बच्चों का भविष्य निर्मित करने में लगा देते हैं. मगर लाइफ में कामयाबी न मिलने पर बच्चे अक्सर पिता से पूछ बैठते हैं कि आपने मेरे लिए क्या किया है. जिससे पिता का हर्ट होना स्वाभाविक होता है.

ये भी पढ़ें: पहली डेट पर जाने से पहले इन 4 बातों का रखें ख्याल, यादगार बन जाएगा एक्सपीरिएंस

जमाने से तुलना न करें
कई बार बच्चे पिता की सलाह को नजरअंदाज करते हुए तर्क देने लगते हैं कि पापा आपका जमाना गया, हमारे जमाने की बात आपकी समझ में नहीं आएगी. हालांकि आपका ये तर्क बिल्कुल बेबुनियाद होता है. जमाना चाहे जो भी हो, मगर बड़े बूढ़ों का अनुभव हमेशा जिंदगी में सही रास्ता दिखाने का काम करता है. इसलिए पिता से ऐसी बातें भूलकर भी न करें.

पिता के संघर्षों का सम्मान करें
आमतौर पर लाइफ टाइम संघर्ष करने के बाद बुढ़ापे में इन्सान सभी कामों से रिटायरमेंट लेकर आराम करता है. ऐसे में बच्चे कई बार पिता से कह बैठते हैं कि पापा आपके पास काम ही क्या है बस खाइए और सोइए. जिससे आपकी बातें आपके फादर की चिंता का कारण भी बन सकती हैं. इसलिए अपने पिता के संघर्षों का सम्मान करना सीखें और ऐसी बातें उनसे बिल्कुल न करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Lifestyle, Relationship

Source link

रणबीर-आलिया ने Baby के जन्म का किया आधिकारिक ऐलान, बेटी को बताया ‘जादुई’

Pathaan: जॉन अब्राहम को शांत स्वभाव का मानते हैं शाहरुख खान, साथ काम करने का शेयर किए अनुभव