in

पीरियड्स के दौरान होने वाली ब्‍लोटिंग को बढ़ा सकते हैं ये फूड्स

हाइलाइट्स

ब्‍लोटिंग होने पर डाइट का रखें विशेष ध्‍यान. पीरियड्स में न खाएं मसालेदार खाना.पीरियड्स के दौरान मीठे की क्रेविंग फ्रूट जूस से करें दूर.

Food That Increase Bloating – अधिक चिकना और मसालेदार खाना गैस, पेट में दर्द और सूजन की समस्‍या को पैदा कर सकता है. लेकिन कई बार ब्‍लोटिंग का कारण पीरियड्स भी हो सकते हैं जिसे पीरियड ब्‍लोटिंग के रूप में जाना जाता है. पीरियड्स के दौरान ब्‍लोटिंग की समस्‍या होने पर पेट की मांसपेशियों में अधिक दर्द और फूलापन महसूस होता है. ब्‍लोटिंग होने का मुख्‍य कारण क्‍या और कितनी क्‍वांटिटी में खाया गया है इस बात पर निर्भर करता है. इसके अलावा पीरियड्स के दौरान एब्‍डोमेन में सूजन आ जाती है जिस वजह से भी पेट में गैस और ब्‍लोटिंग की समस्‍या हो जाती है. ब्‍लोटिंग की समस्‍या को मैनेज करने के लिए छोटे-छोटे डायइट्री चेंजेज किए जा सकते हैं. चलिए जानते हैं इनके बारे में .

क्‍या है पीरियड ब्‍लोटिंग का कारण
गैस रिटेंशन के कारण ब्‍लोटिंग होती है. हालांकि पीरियड्स से पहले और दौरान प्रोजेस्‍टेरोन और एस्‍ट्रोजन हार्मोन के स्‍तर में गड़बड़ी के कारण सूजन होती है जो ब्‍लोटिंग का कारण बनती है. हेल्‍थ शॉट्स के अनुसार हार्मोन में होने वाले परिवर्तन के परिणामस्‍वरूप शरीर में अधिक पानी और नमक हो जाता है जिससे ब्‍लड सेल्‍स में सूजन आ जाती है.

कैसे करें पीरियड ब्‍लोटिंग को मैनेज
कई महिलाओं को पीरियड्स के दौरान गंभीर लक्षणों का अनुभव होता है. लक्षण किस प्रकार के हैं इसका सीधा संबंध डाइट से होता है. पीरियड्स आने के हफ्ते पहले डाइट को कस्‍टमाइज करके ब्‍लोटिंग की समस्‍या से छुटकारा मिल सकता है. हालां‍कि इस दौरान हेल्‍दी फूड का सेवन अधिक फायदेमंद हो सकता है. कई फूड आइटम्‍स के खाने से पेट में गैस और दर्द की समस्‍या अधिक बढ़ सकती है. इन फूड्स को अवॉइड करने से ब्‍लोटिंग में राहत मिल सकती है.

मीठा
मीठे स्‍नैक्‍स ब्‍लोटिंग और गैस जैसी समस्‍याओं को बढ़ावा दे सकते हैं. हालांकि पीरियड्स के दौरान मीठे की क्रेविंग होती है ऐसे में मीठे स्‍नैक्‍स खाने की बजाय फलों के जूस का सेवन किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें- दिन भर के स्ट्रेस से मुक्ति पाने के लिए ताड़ासन के साथ करें ये योगाभ्यास

मसालेदार खाना
जिन महिलाओं को पीरियड्स के दौरान अधिक थकान और हैवी ब्‍लीडिंग की समस्‍या होती है उन्‍हें अधिक मसालेदार खाने से परहेज करना चाहिए. अधिक मसालेदार खाने से सूजन और गैस की समस्‍या हो सकती है.

यह भी पढ़ें- तनाव घटाने और एडीएचडी के असर को कम करने का काम करती है मेंटल एक्सरसाइज, इसके बारे में जानें

अल्‍कोहल
अल्‍कोहल का शरीर पर नकारात्‍मक प्रभाव पड़ता है. पीरियड्स के दौरान अल्‍कोहल का सेवन शरीर को डिहाइट्रेड कर सकता है. इसके सेवन से नसों में सूजन और सिरदर्द बढ़ सकता है.

Tags: Health, Lifestyle

Source link

‘शार्क टैंक इंडिया सीजन 2’ का प्रोमो रिलीज, इस बार अशनीर ग्रोवर की जगह पर कौन सा शार्क लेगा शो में एंट्री

RSMSSB ने 3531 पदों पर भर्ती निकाली है, जल्द करें आवेदन | rsmssb recruitment 2022 applications invited for 3500 post