in

पौधों की मिट्टी में क्यों जम जाती है काई, यहां जानिए कारण

हाइलाइट्स

अत्याधिक गीली मिट्टी रहने की वजह से भी काई जम सकती है.काई हटाने के लिए फेरस सल्फेट का प्रयोग कारगर है.

Causes of Soil moss: पेड़-पौधे वातावरण हेल्दी वातावरण के लिए बेहद जरूरी हैं. आजकल काफी लोग घर पर भी पेड़ पौधे लगाने का शौक रखते हैं लेकिन क्या आपने कभी अपने पौधों की मिट्टी में जमी हुई काई की ओर ध्यान दिया है? हरे रंग की दिखने वाली काई को आप बार-बार हटाते भी हैं लेकिन ये फिर से वापस आ जाती है. आखिर ऐसा क्यों है? आखिर क्यों पौधों की मिट्टी में काई जम जाती है? ये सवाल आपके मन में भी जरूर आता होगा.

काई को हाथ से या केमिकल से हटाने पर आपको कुछ टाइम के लिए राहत मिल सकती है लेकिन अगर इसे सही तरीके से गार्डन या लॉन से हटाया नहीं जाए तो यह वापस भी आ सकती है. आइए जानते हैं असल में क्या है कई और क्यों मिट्टी में पनपती है.

पहले जानिये क्या है काई

काई जड़, फूल रहित एक ऐसा पौधा है, जो दुनिया में किसी भी मौसम में पनप सकता है. दिखने में हरे रंग की काई मिट्टी में किसी कालीन की तरह नजर आती है. काई आम तौर पर नमी वाली जगहों पर मोटी परत के रूप में ज्यादा पनपती है.

यह भी पढ़ें: घर की छत पर भी उगा सकते हैं पपीते का पेड़, फॉलो करें ये आसान टिप्स

पौधों की मिट्टी में क्यों जमती है काई

अगर पौधों को पर्याप्त धूप नहीं मिलती तो उनकी मिट्टी में काई जमा होने लगती है.

अगर पौधों को जरूरत से ज्यादा छांव में रखा जाए तो उनकी मिट्टी पर काई जमा होने लगती है.

अगर पौधे की मिट्टी नम है तो काई जमा हो सकती है.

अगर गमले में जल निकासी का साधन नहीं है तो मिट्टी में काई जमा होने लगती है.

लगातार बारिश के बाद भी पौधों की मिट्टी में काई जमा हो जाती है.

अगर पौधे की मिट्टी में पोषक तत्वों की कमी है तो काई जमा होने लगती है.

काई के लिए उपचार

पौधों की मिट्टी से जमी हुई काई को हटाने के लिए फेरस-सल्फेट की मदद ली जा सकती है. इसके अलावा पौधों को समय समय पर धूप जरुर दिखाएं ताकि मिट्टी में काई जमा ना हो पाए.

Tags: Lifestyle, Plantation, Tips and Tricks

Source link

ऋचा चड्ढा को परफेक्ट लुक देंगे 5 डिजाइनर्स, एक्ट्रेस ने कहा ’न्यू लाइफ लोडिंग’, जानें हर वेडिंग अपडेट

सोनाक्षी सिन्हा-जहीर इकबाल को देख वरुण शर्मा बोले ’ओए…होए…’, रूमर्ड कपल की खास तस्वीर हुई वायरल