in

बच्चों के लिए खाना तैयार करते वक्त बरतें ये सावधानियां, ज्यादा न करें मसालों का इस्तेमाल

हाइलाइट्स

बच्चों के खाने में गरम मसाला और लाल मिर्च एड करने से बचें. नमक का इस्तेमाल भी बच्चों के खाने में सीमित मात्रा में ही करें.

Parenting Tips: टेस्टी और स्पाईसी खाना भला किसे पसंद नहीं होता है. मसालेदार खाना ज्यादातर लोगों का फेवरेट होता है. अधिकतर बच्चे भी स्पाईसी फूड खाने के शौकीन होते हैं. हालांकि ज्यादा मसाले वाली चीजों का सेवन बच्चों की सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है. ऐसे में बच्चों की डिश में मसालों (Spices) का इस्तेमाल करने से पहले कुछ बातों का खास ख्याल रखना जरूरी हो जाता है. कुछ बच्चे मसालेदार खाने को बेहद चाव से खाते हैं. पैरेंट्स को बच्चों के खाने में मसाले की मात्रा पर ध्यान देने की जरूरत होती है. जहां कुछ मसालों का सेवन बच्चों की ग्रोथ बेहतर बनाने में सहायक होता है. वहीं कुछ मसाले बच्चों की हेल्थ पर बुरा असर भी डाल सकते हैं. आइए जानते हैं बच्चों के खाने में मसाले के इस्तेमाल से जुड़े कुछ जरूरी टिप्स, जिसकी मदद से आप बच्चों की सेहत का खास ख्याल रख सकते हैं.

ये भी पढ़ें: रोड ट्रिप पर बच्चों को स्मार्टफोन से रखें दूर, खेलें ये मजेदार गेम्स

नमक का सेवन
बच्चों के लिए मीठे के साथ-साथ नमक का सेवन करना भी बेहद जरूरी होता है. नमक बच्चों के शरीर में आयोडीन की कमी पूरी करके बच्चों की ग्रोथ में मददगार होता है. इसके लिए बच्चों की डाइट में नमक वाली डिश को जरूर एड करें. मगर, ध्यान रहे कि बच्चों को नमक का सेवन सीमित मात्रा में ही कराएं.

मेथी दाना का करें इस्तेमाल
मेथी दाने को भी बच्चों की हेल्दी डाइट का हिस्सा बनाया जा सकता है. हालांकि बच्चों को कम से कम 15 महीने बाद ही मेथी दाना खिलाना चाहिए. ऐसे में अगर आपका बच्चा 15 महीने से ज्यादा का है, तो आप उसके खाने में मेथी के कुछ दाने एड कर सकते हैं. बच्चों को ज्यादा मात्रा में मेथी दाना खिलाने की भूल बिल्कुल ना करें.

ये भी पढ़ें: टीनएज बच्चों की दोस्त चुनने में मदद करेंगे पैरेंट्स तो बेहतर होगा भविष्य

गरम मसाले से रखें दूर
बच्चों के लिए स्पाईसी फूड बनाते समय खाने में गरम मसाला या लाल मिर्च एड करने से बचें. इससे ना सिर्फ बच्चों का पेट खराब हो सकता है बल्कि बच्चों के हेल्थ प्रॉब्लम्स भी होने का डर रहता है. इसलिए बच्चों को 3 साल के पहले गरम मसाला और लाल मिर्च बिल्कुल ना खिलाएं.  वहीं 3 साल के बाद आप सीमित मात्रा में लाल मिर्च और गरम मसाले को बच्चों की डाइट में शामिल कर सकते हैं.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Child Care, Lifestyle, Parenting

Source link

Koffee With Karan पर फ‍िर होगी ‘सुहागरात’ की चर्चा, आल‍िया भट्ट के बाद सुनि‍ए कैटरीना कैफ का जवाब

Chup Trailer: सनी देओल की ‘चुप’ का ट्रेलर रिलीज, रोंगटे खड़े कर देगा सीरियल किलर का गेम