in

बच्चों में पॉजिटिव बिहेवियर किस तरह करें प्रमोट, जानिए जरूरी टिप्स

हाइलाइट्स

पेरेंट्स खुद बने बच्चे के पहले रोल मॉडल.बच्चों के सामने हमेशा अच्छी और पॉजिटिव बातें ही करें. बच्चों को छोटी जिम्मेदारियां देकर उनका आत्मविश्वास बढ़ाएं.

Tips to Promote Positive Behavior In Child : सभी पेरेंट्स अपने बच्चों को हमेशा अच्छी आदतें और संस्कार ही देना चाहते हैं, ताकि उनके बच्चे जिंदगी में हमेशा आगे बढ़ते रहें और बड़े होकर एक अच्छा इंसान बन सकें. बच्चों का व्यवहार अधिकतर अपने पेरेंट्स, परिवार और आसपास के लोगों को देखकर ही बनता है. जब बच्चा छोटा होता है वह अपने मम्मी-पापा को देखकर उनकी तरह बातें करना, उठना-बैठना खुद ही सीख जाता है. इसीलिए अगर आप अपने बच्चे को सही व्यवहार सिखाना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको अपनी आदतों को देखना और ठीक करना होगा. आजकल की स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल में बच्चे भी कहीं ना कहीं स्ट्रेस में रहते हैं और वही चीजें उनके व्यवहार को भी निगेटिव बना सकती हैं, लेकिन अगर कुछ जरूरी बातों का ख्याल रखा जाए तो बच्चों में को प्रमोट किया जा सकता है, आइए जानते हैं.

बच्चों में पॉजिटिव व्यवहार प्रमोट करने के लिए आसान टिप्स :
खुद बने अपने बच्चे के रोल मॉडल :
छोटे बच्चे अक्सर अपने आसपास जो व्यवहार होते हुए देखते हैं, उसी को सही समझते हैं और खुद भी उसी तरह बर्ताव करने लगते हैं. इसीलिए आपको उन्हें सीखने के लिए खुद भी पॉजिटिव रहना चाहिए और घर में भी पॉजिटिव एनर्जी को बनाने की कोशिश करनी चाहिए.

बच्चे की बातों को नजरअंदाज ना करें :
आप अपने बच्चे के व्यवहार में अगर पॉजिटिविटी देखना चाहते हैं तो आपको उसकी बातों और सोचने के तरीके को समझना होगा और उसे प्रोत्साहित करना होगा. बच्चों की बातें अनसुनी करने से उनके मन पर गलत प्रभाव पड़ सकता है और उनका व्यवहार और सोच नेगेटिव हो सकती है.

बच्चों को हर छोटे अचीवमेंट पर प्रोत्साहित करें :
आप को बच्चों पर विश्वास करके उन्हें छोटी छोटी चीजों की जिम्मेदारियां देनी चाहिए और उन्हें अच्छा करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए. ऐसा करने से बच्चे मैं आत्मविश्वास बढ़ेगा और हर चीज के प्रति पॉजिटिव अप्रोच बन सकेगा.

बात बात पर रोका-टोकी सही नही है :
छोटी-छोटी बातों पर हर वक्त बच्चों को रोकना टोकना सही नहीं है, क्योंकि ऐसा करने से बच्चे जिद्दी हो जाते हैं और उनके ऊपर आपके कहने और डाटने का असर खत्म होने लगता है. इसीलिए हर वक्त ऐसा बर्ताव ना करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

ये भी पढ़ें: बच्चे के देर से चलने की ये हो सकती है वजह, आसान तरीकों से करें उसकी मदद

ये भी पढ़ें: डिजिटल मल्टीटास्किंग हो सकती है बच्चे के मानसिक स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक

Tags: Lifestyle, Parenting tips

Source link

फिल्म पठान में शाहरुख खान दिखेंगे सलमान खान! फोटो लीक होने के बाद खड़े हो रहे ये सवाल

दीपिका पादुकोण को फिर कराया गया भर्ती, सांस में तकलीफ के बाद ले जाया गया अस्पताल