in

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इस्तेमाल करें एसेंशियल ऑयल, मिलेंगे कई बेनिफिट्स

हाइलाइट्स

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल काफी कारगर है. लैवेंडर ऑयल अरोमा थेरेपी से मां की फिजिकल और मेंटल हेल्थ सही रहती है.

Benefits of Essential Oils During Breastfeeding : मां का दूध बच्चे के लिए एक प्रयाप्त आहार होता है. नवजात शिशु या छोटे बच्चे पूरी तरह अपनी मां के दूध पर डिपेंड होते हैं, लेकिन अधिकतर महिलाएं दूध की पर्याप्त मात्रा का उत्पादन नही कर पाने के कारण काफी परेशान रहती हैं. ऐसी स्थिति में बच्चों को बहुत कम उम्र में ही बाहर का दूध पिलाना पड़ता है, जिससे वे कई बार संतुष्ट नही हो पाते हैं और आगे चलकर उनके शरीर में कई जरूरी पोषक तत्वों की कमी का खतरा बढ़ सकता है. दूध की आपूर्ति के लिए महिलाओं को अच्छी डाइट लेने की सलाह दी जाती है, लेकिन कई बार खानपान सही होने के बाद भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है. जिसके लिए एक्सपर्ट्स कई नेचुरल तरीकों का सुझाव देते हैं जिनमें से एक है एसेंशियल ऑयल जो दूध की आपूर्ति के साथ कई हेल्थ बेनिफिट्स देंगे. आइए जानते हैं, दूध की आपूर्ति के लिए एसेंशियल ऑयल्स का इस्तेमाल कितना कारगर है.

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान दूध की आपूर्ति को बढ़ावा देंगे ये ऑयल 

सौंफ या फेनेल ऑयल : मॉम्स जंक्शन डॉट कॉम के मुताबिक सौंफ के तेल में गैलेक्टागॉग मौजूद होता है जो ब्रेस्टफीडिंग के दौरान दूध के उत्पादन को बढ़ावा देने में कारगर है. इसका इस्तेमाल ब्रेस्ट पर सूजन को कम करने के साथ-साथ चोक्ड मिल्क डक्ट्स को खोलने के लिए भी किया जा सकता है. प्रेगनेंसी में सौंफ के तेल का इस्तेमाल करने की सलाह भी दी जाती है.

लैवेंडर ऑयल : लैवंडर ऑयल की अरोमा थेरेपी डिलीवरी के तुरंत बाद मां की फिजिकल और मेंटल हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होती है. वहीं कुछ हफ्तों के बाद ये थेरेपी स्ट्रेस या चिंता के साथ पोस्टपार्टम डिप्रेशन से बचाव करती है. लैवेंडर ऑयल का इस्तेमाल मां और बच्चे दोनों के लिए सुरक्षित माना जा सकता है.

जर्मेनियम ऑयल : जर्मेनियम ऑयल में एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं. जिसका इस्तेमाल ब्रेस्टफीडिंग के दौरान अधिकतर ड्राई, फटे और दर्दनाक निपल्स को सही करने के लिए और न्यूरोपैथिक पैन से राहत पाने के लिए किया जाता है. ये ऑयल ब्रेस्टफीडिंग के दौरान काफी लाभकारी होता है.

कैमोमाइल ऑयल : कैमोमाइल ऑयल में हीलिंग प्रॉपर्टीज होती हैं, जिसका इस्तेमाल करने से ब्रेस्टफीडिंग के दौरान आप रिलैक्स महसूस कर सकती हैं और ये दूध की आपूर्ति को बढ़ावा देने के साथ-साथ काफी गुणकारी है. इन एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी है.

Calcium Rich Foods: कैल्शियम की कमी दूर करने के लिए डाइट में शामिल करें ये 8 कैल्शियम रिच फूड्स

Anti Aging Foods: बढ़ती उम्र के साथ डाइट में शामिल करें ये 10 एंटी एजिंग फू़ड्स

Tags: Health, Lifestyle

Source link

शाहरुख खान ने दिवाली पर फैंस को दिया बड़ा तोहफा, ‘पठान’ का धमाकेदार टीजर रिलीज के साथ हुआ वायरल

Priyanka Chopra की मां का हाथ थामे नजर आए निक जोनास, वायरल तस्वीरों पर यूजर्स बरसा रहे प्यार