in

ब्रेस्ट फीडिंग के दौरान इन बातों का रखें खास ख्याल, ऐसे लगाएं बच्चे के पेट भरने का अंदाज

हाइलाइट्स

बच्चों के कम दूध पीने पर उसका डायपर ज्यादा गीला नहीं होता है.बच्चे के दूध पीने का पता मां अपनी ब्रेस्ट के वजन से भी लगा सकती है.

Child care tips: नवजात शिशुओं का खास ख्याल रखना अमूमन काफी चैलेंजिंग टास्क होता है. वहीं नवजात शिशु बोलने में भी असमर्थ होते हैं. जिसके चलते उनसे जुड़ी कुछ बातें जान पाना मां के लिए मुश्किल हो जाता है. खासकर बच्चे को भूख लगने और दूध से पेट भरने का पता लगाना आसान नहीं होता है. ऐसे में अगर आपका बच्चा भी ब्रेस्ट फीडिंग (Breast feeding) करता है, तो कुछ तरीकों से आप बच्चे के पेट भरने का पता लगा सकते हैं.

दरअसल भूख लगने पर बच्चे अक्सर रोना शुरू कर देते हैं. ऐसे में मां बच्चों को ब्रेस्ट फीडिंग करवा देती हैं. मगर ब्रेस्ट फीडिंग से बच्चे का पेट भरा या नहीं, ये समझना कई बार मां के लिए मुश्किल हो जाता है. जिसके चलते आपका बच्चा भूखा भी रह सकता है. इसलिए हम आपको बताने जा रहे हैं बच्चों को ब्रेस्ट फीडिंग कराने के कुछ टिप्स, जिसकी मदद से आप चुटकियों में बच्चे के पेट भरने का अंदाजा लगा सकती हैं.

डायपर चेक करें
बच्चों के कम दूध पीने पर उसका डायपर ज्यादा गीला नहीं होता है. ऐसे में अगर आपका बच्चा कम मात्रा में दूध का सेवन करता है तो उसका डायपर भी कम गीला होगा. साथ ही पेट न भरने से बच्चा चिड़चिड़ा होकर रोना भी शुरू कर सकता है.

ये भी पढ़ें: पैरेंट्स टीचर मीटिंग में इन बातों का रखें खास ख्याल, बच्चों को नेगेटिविटी से बचाने के लिए न करें ये गलतियां

बच्चों में रहेगी सुस्ती
दूध पीने के बाद बच्चे का पेट न भरने पर बच्चा आपको सुस्त नजर आएगा. वहीं अगर दूध पीने से बच्चे का पेट भर गया है तो बच्चा एक्टिव और हंसता हुआ दिखाई देगा.

टॉयलेट का कलर
आप बच्चे के पेट भरने का अंदाजा उसकी टॉयलेट देखकर भी लगा सकती हैं. पेट न भरने पर बच्चों की टॉयलेट का कलर पीला रहता है. वहीं पर्याप्त मात्रा में दूध न पीने से बच्चे डिहाइड्रेशन का भी शिकार हो सकता है और उनका मुंह सूखने लग जाता है.

ये भी पढ़ें: ऐसे सजाएं बच्चों का स्टडी रूम और टेबल, पढ़ाई से नहीं भागेंगे दूर

हेल्थ पर दें ध्यान
हर रोज दूध पीने के बाद अगर बच्चा भूखा रह जाता है, तो ऐसे में बच्चों को वीकनेस भी आ सकती हैं और उनकी ग्रोथ भी धीमी पड़ जाती है. हालांकि पेट भरकर दूध पीने से बच्चों का विकास काफी तेजी से होने लगता है.

ब्रेस्ट में हल्कापन
बच्चे के दूध पीने का पता मां अपनी ब्रेस्ट के वजन से भी लगा सकती है. बच्चों के दूध पीने के बाद मां की छाती काफी हल्की हो जाती है. वहीं दूध पीते समय भी बच्चे के गले से घूंट की आवाज आती रहती है. जिसे सुनकर आप बच्चों के दूध पीने का अंदाजा लगा सकती हैं.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Child Care, Lifestyle, Parenting tips

Source link

ऋषभ पंत के लिए था उर्वशी रौतेला का वायरल ‘आई लव यू’ VIDEO? एक्ट्रेस ने अब तोड़ी चुप्पी

सोनाक्षी सिन्हा का व्हाइट ड्रेस में दिखा ग्लैमरस अंदाज, PHOTOS देख फिदा हुए फैन्स