in

भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में हॉरर फिल्मों को दी जाएगी खास जगह, जानें पूरा प्लान

नई दिल्ली. हॉरर फिल्मी विधा की लोकप्रियता के आधार पर, 53वें भारत अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) ‘मैकेबर ड्रीम्स’ की पेशकश कर रहा है. अमेरिकी फिल्म निमार्ता जॉन कारपेंटर का कहना है डर एक सार्वभौमिक भाषा है. हम सबको डर लगता है. हम जन्म से ही डरने लगते हैं, हमें हर चीज से डर लगता है. मृत्यु, विकृति, प्रियजनों के खो जाने डर आम बात है.

जॉन कारपेंटर को ‘हॉरर फिल्मों का उस्ताद’ कहा जाता है. वे जब अपनी पसंदीदा फिल्म विधा की बात करते हैं, तो वे भावनात्मक रूप से तनिक भी अतिशयता से काम नहीं लेते. कहां से शुरू किया जाए ‘ड्रैकुला’ से लेकर ‘दि एक्जॉरसिस्ट’ तक या ‘हेरेडिटरी’ से लेकर ‘द कॉन्जरिंग’ तक, सनसनी पैदा कर देने वाली इन हॉरर फिल्मों ने दुनिया भर के सिने-प्रेमियों का ध्यान खींचा है.

बेहतरीन फिल्मों को किया शामिल
53वें भारत अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) मैं कई बेहतरीन हॉरर फिल्मों को शामिल किया गया है. इनमें नाइट सायरन (स्लोवाकिया 2022) भी है. इस फिल्म का निर्देशन टेरेजा न्वोतोवा ने किया है. यह एक युवती की कहानी है, जो अपने पुश्तैनी पहाड़ी गांव में वापस आती है. वह अपने मुश्किल भरे बचपन के बारे में जानना चाहती है, सवालों के जवाब तलाशना चाहती है. लेकिन, जब वह सच्चाई खोजने की कोशिश करती है, तो पुरानी दुनिया की आहटें आधुनिक वास्तविकता में दखलंदाजी करने लगती हैं. तब गांव के लोग उस पर जादू-टोने और हत्या का आरोप लगाने लगते हैं.

हुइसेरा को भी किया शामिल
एक अन्य फिल्म हुइसेरा है. यह एक पारलौकिक डरावनी फिल्म है. जिसका निर्देशन मैक्सिको की फिल्म निमार्ता मिचेल गार्जा सरवेरा ने किया है. वे इस फिल्म की सह-लेखक भी हैं. फिल्म में नतालिया सोलियेन ने एक गर्भवती औरत वेलेरिया का किरदार निभाया है. जिसे जादू-टोने की ताकतें मुसीबत में डाल देती हैं. इस फिल्म को मैक्सिको और पेरू ने मिलकर बनाया है. इसका वल्र्ड प्रीमियर नौ जुलाई, 2022 को ट्रिबेका फेस्टिवल में हुआ था. उसे सर्वश्रेष्ठ नवीन कथात्मक निर्देशक का और नोरा एफ्रॉन पुरस्कार भी मिले हैं.

हॉरर फिल्म वीनस भी की जाएगी प्रदर्शित
वीनस यहां प्रदर्शित की जाने वाली एक और हॉरर फिल्म है. जिसमें शहरी वातावरण पेश किया गया है कि कैसे आधुनिक जादू-टोने के साथ बचा जाता है. फिल्म का निर्देशन यॉमे बालाग्वेरो ने किया है. यह छह भागों वाले ‘दी फियर कलेक्शन’ का दूसरा हिस्सा है. कहानी की शुरुआत एक बैले डांसर से होती है, जो उस नाइट क्लब से नशीली गोलियों से भरा एक बैग चुरा लेती है, जहां वह काम करती है. जब उसकी योजना गड़बड़ हो जाती है और बदमाशों का गिरोह उसके पीछे लग जाता है, तो वह अपनी बहन के फ्लैट में छुपने का इरादा करती है.

Tags: Bollywood news, International film Festival

Source link

हर वक्त आती हैं उबकाई कहीं इंटरमिटेंट फास्टिंग तो नहीं है वजह, जानें यहां

स्किन और बालों को मजबूत बनाता है Vitamin D, हड्डियों के लिए भी फायदेमंद