in

महेश मांजरेकर ने ब्लॉकबस्टर फिल्म KGF की तारीफ कर कहा, ‘मुझे उन लोगों से ईर्ष्या है लेकिन…’

यश की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘केजीएफ’ (KGF) ने बॉक्स ऑफिस पर हर रिकॉर्ड को तोड़ा है. इसने न केवल कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री के लिए एक बेंचमार्क स्थापित किया है बल्कि बॉक्स ऑफिस पर भी कब्जा कर लिया है. फिल्म के पहले पार्ट की तरह की इसके दूसरे सीक्वेल ने भी ताबड़तोड़ कमाई की है. फिल्म ने घरेलू बॉक्स ऑफिस के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय बाजारों में तूफान ला दिया क्योंकि इसने दुनिया भर में 1000 करोड़ से ज्यादा की कमाई की है. हाल ही में एक कार्यक्रम के दौरान, बॉलीवुड फिल्म निर्माता और अभिनेता महेश मांजरेकर ने मराठी सिनेमा के बारे में बात करते हुए केजीएफ की भी खूब तारीफ की है.

KGF की तरह मराठी सिनेमा को है एक मौके की जरूरत

‘Antim: The Final Truth’ के निर्देशक फिल्म निर्माता हाल ही में एक पुरस्कार समारोह में दिखाई दिए, जहां मराठी सिनेमा की कुछ सबसे प्रमुख हस्तियां मौजूद थीं. मराठी सिनेमा के बारे में बात करते हुए, महेश मांजरेकर ने कन्नड़ सिनेमा का उदाहरण देते हुए कहा कि जब सभी को लगा कि कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री कभी भी बंद हो जाएगी, तो एक व्यक्ति ने केजीएफ बनाया और इसने इतिहास रच दिया. फिल्म निर्माता ने यह भी कहा कि ठीक उसी तरह मराठी सिनेमा को भी एक मौके की जरूरत है और चाहते हैं कि लोग इस पर विश्वास करें.

KGF ने बंद होने से बचाई कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री

मांजरेकर ने कहा, ‘हमें छतों से चिल्लाना होगा कि मराठी सिनेमा महान है. मैं कहना चाहता हूं कि कुछ साल पहले कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री की हालत ऐसी थी कि ऐसा लग रहा था कि यह कभी भी बंद हो जाएगी, लेकिन एक व्यक्ति था जो फिल्म बनाने और उस पर बहुत पैसा खर्च करने में विश्वास करता था. उस शख्स ने केजीएफ नाम की फिल्म बनाई और इतिहास रच दिया. मुझे खुशी इस बात की है कि उन्होंने केजीएफ के दोनों हिस्सों को हिंदी में नहीं बनाया, उन्होंने कन्नड़ में फिल्म की शूटिंग की और हिंदी में डब किया. इसके बाद फिर दर्शकों के सिर के ऊपर फेका. मैं इन लोगों से ईर्ष्या करता हूं लेकिन मुझे भी उनकी तरह ऐसा कुछ करना अच्छा लगता है और ये शानदार है.’

Also Read: कभी ‘Sita Ramam’ के दुलकर सलमान को सुननी पड़ी थीं लोगों की घटिया बातें, इरफान खान के को- स्टार का छलका दर्द

महेश मांजरेकर ने कहा, कंटेट में टॉप पर है मराठी सिनेमा

उन्होंने आगे कहा कि ‘मराठी सिनेमा में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, तो फिर हममें क्या कमी है? हमें ऐसे लोगों की भी जरूरत है जो हमारी दृष्टि में विश्वास करते हैं. ये भी महत्वपूर्ण है कि हम बड़े पैमाने पर दृढ़ विश्वास और आत्मविश्वास के साथ फिल्में बनाएं तो यहां भी वैसा कुछ हो सकता है.’ उन्होंने कहा, ‘जब बात कंटेंट की आती है तो हमारा सिनेमा टॉप पर होता है. आज के समय में केवल मराठी और मलयालम सिनेमा ही फिल्मों में दमदार कंटेंट उपलब्ध करा रहा है. किसी को हम पर विश्वास करना होगा और पैसा खर्च करना होगा, जैसे केजीएफ निर्माताओं ने किया था.

Tags: KGF 2, KGF chapter 1, Mahesh Manjrekar

Source link

Manushi Chillar: ट्रांसपेरेंट ड्रेस पहनकर पानी में लेट गईं मानुषी छिल्लर मिस वर्ल्ड का फैशन सेंस देख लोगों ने कही ये बात

जिम के सेलेक्शन से लेकर ड्रेस और रिसर्च तक, Gym ज्वॉइन करते समय इन बातों को न करें नजरअंदाज