in

मैं शराब की बोतल लेकर घर की तरफ़ जा ही रहा था की!!

मैं शराब की बोतल लेकर घर की तरफ़ जा ही रहा था की!!

रास्ते में पड़ौस में रहने वाले पण्डित जी मिल गए और कहने लगे:

भाई, तुम शराब पीते हो, तुम नरक में जाओगे।

इस पर मैंने पूछा:

जनाब, लेकिन कोई शराब बेचता है तभी तो मैं ख़रीदता हूँ।

उस महेश का क्या होगा जो शराब बेचता है?

पण्डित: वो भी नरक की आग में जलेगा।

मैंने फिर पूछा:

तो उस उमेश का क्या होगा जो शराब की दूकान के बाहर चिकन बेचता है?

पंडित: वो तो सौ फ़ीसद नरक जायेगा।

मैंने फिर पूछा: और वो नाचने वाली लड़की ललिता?

पंडित: ये सब नरक में जायेंगे।

मैं बोला: फिर क्या दिक़्क़त है नरक जाने में?

जब शराब वाला वहां होगा,
चिकन वाला वहां होगा और
नाचने वाली लड़की वहां होगी।
फिर तो वो स्वर्ग ही हुआ ना।

पंडित जी तब से मेरे साथ ही बैठे हैं,

तीन पेग के बाद सलाद काट रहे हैं।

लेकिन सेल्फी लेने से मना कर रहे हैं।??

?????

Life ends when you stop dreaming. Hopes end when you stop believing.

मूस्कराहट का कोई मोल नहीं होता,