in

मौत के जोखिम कम कर सकती है दो कप चाय, रिसर्च में हुआ खुलासा

हाइलाइट्स

प्रतिदिन दो या दो से अधिक कप चाय पीने से चाय न पीने वालों की तुलना में मृत्यु का खतरा कम हो जाता हैशोधकर्ताओं ने चाय पीने के व्यवहार से संबंधित 11 साल के आंकड़े का विश्लेषण किया

benefits of tea: हममें से अधिकांश लोगों की दिन की शुरुआत चाय की प्याली से होती है. लेकिन क्या आप चाय के फायदे के बारे में जानते हैं. एक ताजा अध्ययन में यह बात सामने आई कि चाय पीने से मौत की आशंका कम हो जाती है. एनाल्स ऑफ इंटरनल मेडिसिन में प्रकाशित एक हालिया अध्ययन के अनुसार, प्रतिदिन दो या दो से अधिक कप चाय पीने से चाय न पीने वालों की तुलना में मृत्यु का खतरा कम हो जाता है. दरअसल, चाय में एंटीऑक्सिडेंट जैसे लाभकारी कंपाउंड पाए जाते हैं, जो ऑवरऑल हेल्थ के लिए कई तरह से फायदेमंद हैं. इससे पहले चीन और जापान में हुए अध्ययनों में यह कहा गया था कि नियमित रूप से ग्रीन टी पीने से स्वास्थ्य बेहतर रहता है और मरने का जोखिम भी कम हो जाता है. हालांकि पिछले अध्ययनों में इस बात पर ध्यान नहीं दिया गया कि काली चाय पीने के क्या फायदे हैं.

मौत की आशंका 13 प्रतिशत तक कम होती है
अध्ययन में शोधकर्ता ने ब्रिटेन के बायोबैंक के डाटा का इस्तेमाल किया. इस डाटा में 40 से 69 वर्ष की आयु के बीच के करीब 5 लाख आबादी का कई सालों का रिकॉर्ड दर्ज था. शोधकर्ता यह देखना चाहते थें कि चाय पीने और उस आबादी में मरने के जोखिम के बीच क्या संबंध है. इन आबादी में ज्यादातर लोग काली चाय पीते थे. बायोबैंक के डाटा से करीब 5 लाख महिला-पुरुषों के स्वास्थ्य पर विश्लेषण किया गया. इन लोगों ने यह बताया कि वे एक दिन में औसतन कितने कप चाय पीते थे, चाहे वह काली चाय हो या ग्रीन चाय. इसके अलावा उन्होंने चाय में दूध या चीनी मिलाई थी या नहीं. इसके अलावा कुछ आनुवांशिक जानकारी भी जुटाई गई. अध्ययन में शामिल लोगों में से 90 प्रतिशत लोग नियमित रूप से काली चाय पीते थे. शोधकर्ताओं ने इन सबके चाय पीने के व्यवहार से संबंधित 11 साल के आंकड़े का विश्लेषण किया. इसके बाद पाया गया कि जो लोग चाय नहीं पीते हैं, उनकी तुलना में जिन लोगों ने दिन में दो या अधिक कप चाय पीने की सूचना दी, उनमें सभी कारणों से मौत का जोखिम 9 से 13 प्रतिशत कम हो गया था.

स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मददगार
जब शोधकर्ताओं ने यह परखने की कोशिश की कि चाय पीने का फायदा किन बीमारियों के जोखिम में सबसे ज्यादा है तो पाया कि चाय ने स्ट्रोक, हार्ट डिजीज और दिल से संबंधित अन्य बीमारियों के जोखिम से होने वाली मौत को सबसे ज्यादा कम किया. अध्ययन में यह भी पाया गया कि रोजाना सिर्फ एक कप चाय पीने से मरने का जोखिम कम नहीं हुआ. मोटे तौर पर जो लोग 2 कप से 10 कप चाय रोजाना पीते थे, उनमें मौत की आशंका कम हुई. शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि चाय में चीनी या दूध मिलाने के बाद भी मौत की आशंका कम होती है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle, Tea

Source link

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में ‘दयाबेन’ की वापसी पर असित मोदी ने कही दिल की बात, जानकर आप भी हो जाएंगे खुश

Bhojpuri Actress Pics: खेसारी की एक्ट्रेस ने जन्मदिन पर काटे दो-दो केक, मिला ढेर सारा तोहफा भी, देखिए