in

राइट बैक साइड में पेन की वजह हो सकती है किडनी स्टोन, जानें इसके अन्य कारणों के बारे में

हाइलाइट्स

राइट बैक राइड में दर्द का कारण किडनी स्‍टोन भी हो सकती है. मोच और खिंचाव से भी हो सकता है बैक पेन.लंबे समय तक बैक में होने वाले दर्द को नजरअंदाज न करें.

Cause Of Right Back Side Pain-  लंबे समय तक राइट बैक साइड में होने वाला दर्द सामान्‍य नहीं होता ये कई समस्‍याओं की ओर इशारा करता है. बैक में होने वाला दर्द आमतौर पर देर तक बैठे रहने, इंटेंस वर्कआउट रुटीन और चोट के कारण हो सकता है. राइट बैक साइड में दर्द होने से बैठने और झुकने में कठिनाई महसूस हो सकती है साथ ही राइट साइड में करवट लेकर लेटना भी मुश्किल हो जाता है. राइट बैक साइड में अधिक दर्द होना किडनी स्‍टोन के खतरे को भी बढ़ा सकता है.

किडनी स्‍टोन होने पर असहनीय दर्द,  उल्‍टी और चक्‍कर आ सकते हैं. स्‍टोन की समस्‍या होने पर दर्द को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए. चलिए जानते हैं राइट बैक साइड में होने वाले दर्द के कारणों के बारे में.

मोच और खिंचाव
मोच और खिंचाव से मांसपेशियों में दर्द हो सकता है. हेल्‍थ शॉट्स के अनुसार अचानक चोट लगने और चलने के कारण बैक में मोच और खिंचाव आ सकता है. जैसे भारी चीजों को उठाना, एक्‍सरसाइज से पहले वार्मअप न करना या शरीर को अजीब तरीके से मोड़ने से ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ता है. दर्द से छुटकारा पाने के लिए आराम, आईस और हॉट सिकाई कर सकते हैं.

स्‍पाइनल स्‍टेनो‍सिस
स्‍पाइनल स्‍टेनोसिस का अर्थ है रीढ़ की हड्डी के अंदर मांसपेशियों का सिकुड़ना. इससे रीढ़ की हड्डी पर दबाव पड़ता है जिससे पीठ के लोअर राइट बैक में सुन्‍नपन और दर्द होता है. इस दर्दनाक समस्‍या का इलाज काफी मुश्किल होता है क्‍योंकि रीढ़ की हड्डी को स्थिर रखना बेहद मुश्किल हो जाता है. इसके लिए कई बार सर्जरी का उपयोग किया जाता है.

इसे भी पढ़ें: हार्ट अटैक और गैस के दर्द के अंतर को ऐसे पहचानें, लापरवाही पड़ सकती है महंगी

अपेंडिसाइटिस
अपेंडिसाइटिस आमतौर पर पीठ या पेट के राइट साइड में तेज दर्द का कारण बनता है. इस समस्‍या के दौरान शरीर फूला हुआ महसूस होना, गैस, पेट में सूजन, भूख न लगना, बुखार, उल्‍टी, कब्‍ज और मितली जैसे लक्षण हो सकते हैं. ये नसों में रुकावट या इंफेक्‍शन के कारण देखी जाने वाली सूजन है. यदि इसका इलाज सही ढंग से न किया जाए तो ये बस्‍ट भी हो सकता है. सूजन वाली अपेंडिक्‍स को हटाने के लिए सर्जरी का सहारा लेना पड़ता है.

इसे भी पढ़ें: कब्ज, डायरिया भी हो सकते हैं विटामिन बी12 की कमी के लक्षण, ये भी हैं संकेत

किडनी स्‍टोन
किडनी स्‍टोन जिसे नेफ्रोलिथियासिस या यूरोलिथियासिस के रूप में भी जाना जाता है. किडनी में जब हार्ड मिनरल और सॉल्‍ट इकट्ठा हो जाते हैं तो स्‍टोन का रूप ले लेते हैं. ये एक या दोनों किडनी में हो सकते हैं. किडनी में स्‍टोन होने पर राइट बैक साइड में दर्द होता है जिस वजह से यूरिन करने में भी परेशानी आ सकती है.

Tags: Health, Joint pain, Lifestyle

Source link

जानें ‘राम सेतु’ और ‘थैंक गॉड’ के दूसरे दिन का कलेक्शन, क्या अजय देवगन ने दी अक्षय फिल्म को मात?

मिनि स्कर्ट और क्रॉप टॉप में स्वैग झाड़ते दिखी ये मशहूर एक्ट्रेस, देखिए PHOTOS