in

राजू श्रीवास्तव के निधन पर कॉमेडियन रोहन जोशी ने किया बेहूदा कमेंट, हो गए बुरी तरह ट्रोल

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastava) का आज बुधवार 21 सितंबर को निधन हो गया और उनके जाने से एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में एक शून्यता आ गई है. जहां प्रशंसकों और मशहूर हस्तियों ने उनके निधन पर शोक मनाया, वहीं स्टैंड-अप कॉमेडियन रोहन जोशी का उनके निधन पर कमेंट कई लोगों को अच्छा नहीं लगा. ऐसा तब हुआ, जब रोहन ने राजू श्रीवास्तव के निधन पर अतुल खत्री की पोस्ट पर प्रतिक्रिया दी.

अतुल ने इंस्टाग्राम पर राजू की एक तस्वीर पोस्ट की और लिखा, ‘आरआईपी राजूभाई. आप इतने सारे लोगों के लिए प्रेरणा थे. जब भी आप मंच पर जाते थे तो आग लगा देते थे. आपकी मौजूदगी ऐसी थी कि जब भी लोग आपको देखते थे तो उनके चेहरे पर एक मुस्कान आ जाती थी. भारतीय स्टैंड-अप कॉमेडी के लिए एक बड़ी क्षति है.’

इस पर रोहन जोशी ने कमेंट किया, जिसमें लिखा था, ‘हमने कोई चीज नहीं खोई है. चाहे वह कर्म हो या फिर रोस्ट हो या फिर कोई भी चीज जो खबरों में आ रहा हो. राजू श्रीवास्तव ने नई कॉमेडी पर काम करने का हर मौका लिया, खासकर स्टैंड अप की नई लहर शुरू होने के बाद. वे हर बार हर समाचार चैनल पर जाते थे जहां उन्हें नए आर्ट को बकवास कहने के लिए आमंत्रित किया जाता था.’

उन्होंने आगे लिखा था, ‘वे उसे गलत कहते थे, क्योंकि वे इसे समझ नहीं पाते थे और नए सितारे उभर रहे थे. उन्होंने भले ही कुछ अच्छे जोक सुनाए हों, लेकिन उन्हें कॉमेडी का जज्बा या किसी के कुछ कहने के अधिकार की रक्षा करने के बारे में कुछ भी समझ में नहीं आया, भले ही आप सहमत न हों.’

(फोटो साभार: Twitter)

रोहन जोशी ने आलोचना के बाद दी सफाई
रोहन जोशी के कमेंट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने राजू के निधन को ‘कर्म’ से जोड़ने की वजह से आलोचना की. हालांकि, कमेंट अब दिखाई नहीं दे रहा है. रोहन ने बाद में स्पष्ट किया कि उन्होंने प्रतिक्रिया के बाद इसे हटा लिया. उन्होंने लिखा, ‘ये सोचकर डिलीट किया, क्योंकि एक मिनट के गुस्से के बाद मुझे एहसास हुआ कि यह मेरी निजी भावनाओं के बारे में नहीं है. क्षमा करें, अगर किसी को ठेस पहुंची है.’

रोहन जोशी से सिकंदर खेर हुए नाराज
रोहन के कमेंट ने एक्टर सिकंदर खेर को भी नाराज कर दिया. उन्होंने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरीज पर साझा किया, ‘हमेशा ऐसे लोग होते हैं जो हमारे नजरिये से आदर्श नहीं होंगे. लेकिन, यह जीवन है और हमें इंसानों के रूप में अपनी सेहत और खुशी के लिए इससे निपटना चाहिए, लेकिन किसी ऐसे व्यक्ति के बारे में यह पढ़ने के बाद, जिसका निधन हो गया है, मुझे यह देखकर दुख होता है कि एक युवा जो मजाकिया हो सकता है, उसमें शायद मानवता की भारी कमी है. मुझे इतना विनम्र होने में काफी कोशिश करनी पड़ी.’

Tags: Raju Srivastav

Source link

हेयर फॉल से बचाव करती है सौंफ, स्किन में भी लाती है निखार, जानें इसके फायदे

अलग-अलग लुक्स क्रिएट करने के लिए आजमाएं ये आसान काजल टिप्स