in

रात में नहीं आती है नींद तो यह है वजह, जानें कैसे मिलेगा इससे छुटकारा

हाइलाइट्स

नींद की कमी के लिए डाइट की बहुत बड़ी भूमिका होती है विटामिन डी की कमी को पूरा करने के लिए सूरज की रोशनी सबसे बड़ा स्रोत है

sleeping difficulty: अक्सर कुछ लोगों को रात में नींद नहीं आती. इसके लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है. इसके बावजूद कुछ लोगों में नींद नहीं आती है. आती भी है तो बार-बार टूट जाती है. अच्छी सेहत के लिए पर्याप्त नींद जरूरी है लेकिन कई कारणों से नींद में खलल पड़ सकता है. नींद की कमी के कारण शारीरिक और मानसिक दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. इसके कारण हमेशा सिर दर्द, थकान, चिड़चिड़ापन, तनाव आदि की शिकायत रहती है. नींद की कमी के लिए डाइट की बहुत बड़ी भूमिका होती है.

नींद न आने के कारण
नींद न आने के कई कारण हो सकते हैं. जैसे वयस्कों में लाइफस्टाइस से संबंधित अनियमितता, कुछ मेडिकल स्थितियां, कुछ बीमारियां, मोबाइल, टेलीविजन, वीडियो गेम, ज्यादा उत्तेजना, ज्यादा कैफीन, डाइट सही से नहीं लेना, ज्यादा शोर, बेड का असहज होना, बेडरूम में रोशनी सही से नहीं पहुंचना, बार-बार पेशाब लगना, किसी तरह का दर्द, कुछ दवाइयां आदि के कारण नींद नहीं आती है. इन सब कारणों में लोग डाइट को अक्सर भूल जाते हैं. साइकोलॉजी टूडे में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक कुछ विटामिन की कमी भी नींद को खराब कर सकती है.

इसे भी पढ़ें-कुत्ता अगर काट ले तो कब लगाना चाहिए इंजेक्शन? डॉक्टर से जानिए कैसे करें उपचार

विटामिन डी की कमी
हममें से बहुत से लोगों का मानना है कि विटामिन डी सिर्फ हड्डियों के लिए जरूरी है. लेकिन यह मूड और इम्युनिटी को दुरुस्त रखने में मददगार है. साथ ही या शरीर में सूजन को कंट्रोल करने के लिए जरूरी है. सबसे बड़ी बात यह है कि विटामिन डी की नींद लाने में बहुत बड़ी भूमिका है. विटामिन डी की कमी से नींद में कमी आती है. एक अध्ययन के मुताबिक विटामिन डी की कमी से नींद की अवधि भी कम हो जाती है. 50 से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए विटामिन डी की कमी का सीधा असर नींद पर पड़ता है. इसके अलावा विटामिन ई, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन बी6 और विटामिन बी 12 भी नींद के लिए जरूरी है. विटामिन बी 6 मेलाटोनिन और सेरोटोनिन हार्मोन की कमी को पूरा करता है. ये हार्मोन नींद लाने में मददगार है.

ऐसे करें विटामिन की कमी को पूरा
विटामिन डी की कमी को पूरा करने के लिए सूरज की रोशनी सबसे बड़ा स्रोत है. इसके अलावा फैटी फिश, फिश ऑयल, अंडे का यॉक आदि से विटामिन डी की कमी को पूरा किया जा सकता है. अन्य इस विटामिन की कमी को पूरा करने के लिए आप चिकन, मूंगफली, अंडा, दूध, सैल्मन मछली, हरी मटर और गाजर का सेवन करें.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Detail Review: जितना प्रचार और हल्ला मचाया था, उतनी तो अच्छी नहीं थी ‘तमिल रॉकर्ज’

Entertainment TOP-5: ‘नए तारक मेहता’ की हुई एंट्री, ‘प्लान A प्लान B’ का ट्रेलर हुआ रिलीज