in

रोजमर्रा की ये 5 आदतें आपको बना सकती हैं डायबिटीज का मरीज

हाइलाइट्स

लाइफस्टाइल की खराब आदतों से बढ़ सकता है डायबिटीज का खतरा. ब्रेकफास्ट को स्किप करने से डायबिटीज का खतरा बढ़ सकता है. अच्छी और पर्याप्त नींद लेने से डायबिटीज का खतरा कम होता है.

Habits Which Raises Diabetes Risk : आजकल की भागदौड़ भरी लाइफस्टाइल के चलते केवल भारत में ही नही बल्कि पूरी दुनिया में डायबिटीज एक आम बीमारी हो चुकी है. डायबिटीज यानी बॉडी का ब्लड शुगर लेवल हाई होना एक गंभीर बीमारी है, जो हर उम्र के लोगों को अपनी चपेट में ले रही है. डायबिटीज हाई कोलेस्ट्रोल, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट संबंधित बीमारियों के साथ शरीर की ओवरऑल हेल्थ को प्रभावित करती है. डायबिटीज की बीमारी का सबसे बड़ा कारण है, गलत खानपान और डेली रूटीन में रहन-सहन का अस्त-व्यस्त तरीका. रोजमर्रा की कुछ गलत आदतों से डायबिटीज का खतरा बढ़ सकता है इसलिए कुछ आदतों को बदलकर इस बीमारी से बचा जा सकता है. डायबिटीज की बीमारी से बचने के लिए उसके कारणों को जानना बेहद जरूरी होता है इसलिए अगर आप भी डायबिटीज से बचे रहना चाहते हैं तो यहां बताए गए कुछ कारणों को अच्छी तरीके से जान लें. आइए जानते हैं.
5 आदतें जो बन सकती हैं, डायबिटीज का कारण :
मिडनाइट क्रेविंग –
एवरीडे हेल्थ डॉट कॉम के मुताबिक रात के खाने के कुछ घंटे बाद अगर आप दोबारा खाना खाते हैं तो आपको इस पर विचार करना चाहिए, क्योंकि हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार इस तरीके से खाना खाने का पैटर्न, ब्लड शुगर के स्पाइक्स का कारण बनता है और इन्सुलिन सेक्रेशन को रोकता है. जिससे आप डायबिटीज को कंट्रोल नहीं कर पाते हैं.इसलिए संतुलित भोजन करें जिससे आपको मिडनाइट में खाने के लिए क्रेविंग ना हो, फिर भी अगर आपको देर रात को खाना खाना है तो आप चिप्स, डोनट्स या ट्रिगर फूड ना खाएं इसके बजाय हेल्दी फूड का सेवन करें.

ब्रेकफास्ट को स्किप करना –
ब्रेकफास्ट पूरे दिन का सबसे महत्वपूर्ण भोजन होता है. सुबह का नाश्ता स्किप करने से आपको डायबिटीज को रोकने में कठिनाई हो सकती है. सुबह का नाश्ता स्किप करने से दोपहर तक आप भूखा रहते हैं. जिससे इंसुलिन का लेवल और ब्लड शुगर कंट्रोल नहीं हो पाता है. ब्लड शुगर कंट्रोल और वजन घटाने के लिए संतुलित ब्रेकफास्ट के लिए समय जरूर निकालें. नाश्ते में अंडे, ताजे फल, दही, रोटी आपकी सेहत के लिए अच्छे रहते है.

शुगरी ड्रिंक्स –
मीठी चाय और मीठा सोडा या कोई भी शुगरी ड्रिंक्स रेगुलर पीने से आपका वजन बढ़ सकता है और आपको डायबिटीज हो सकती है. अगर आपको प्यास लगती है तो आप पानी पिए. कम फैट वाला दूध भी आपके लिए अच्छा ऑप्शन हो सकता है और फलों का रस संतुलित मात्रा में पिए.

पर्याप्त नींद ना लेना –
अगर आप 6 घंटे से कम नींद लेते हैं तो आप ब्लड ग्लूकोस और भूख को कंट्रोल करने वाले हार्मोन को रोकते हैं जिससे वजन बढ़ने और डायबिटीज का जोखिम बढ़ सकता है. इसलिए पर्याप्त नींद ले अगर आपको खर्राटे की समस्या है तो यह स्लीप एपनिया हो सकता है जो ब्लड शुगर और हृदय रोग को भी प्रभावित करता है जिससे डायबिटीज का खतरा बढ़ सकता है.

इमोशनल ईटिंग –
जब आप इमोशनल या डिप्रेस्ड होते हैं तो आप अपनी सेहत का ध्यान अच्छे से नहीं रख पाते हैं और अधिक खाना खा सकते हैं जिससे डायबिटीज और वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है.

इसे भी पढ़ेंः दिन में एक बार जरूर पिएं करेले का जूस, कई शारीरिक समस्याओं से मिलेगी मुक्ति

इसे भी पढ़ें- डायबिटिक हैं तो तुरंत स्मोकिंग छोड़ दीजिए, वरना कई गुना बढ़ सकता है मौत का खतरा, जानिए रिसर्च

Tags: Health, Lifestyle

Source link

Bigg Boss 16: शालीन भनोट की वजह से क्या अलग हो जाएंगे प्रियंका और अंकित के रास्ते?

नोरा फतेही ने खूबसूरत ड्रेस में गिराई बिजली, सुलझाना चाहती हैं कहानी का दूसरा हिस्सा