in

विद्युत जामवाल का क्या है बेबी प्लान? गोद लेंगे या चुनेंगे सरोगेसी का रास्ता? एक्टर ने दिया दिलचस्प बयान

विद्युत जामवाल (Vidyut Jammwal) को आखिरी बार ‘खुदा हाफिज चैप्टर 2 अग्नि परीक्षा’ में देखा गया था, जिसमें उन्होंने लीड रोल निभाया था. एक्शन फिल्म जुलाई में रिलीज हुई थी. एक्टर अपनी दमदार बॉडी और फिटनेस के लिए जाने जाते हैं. उन्होंने हाल में पिता बनने के बारे में बात की. उन्होंने कहा कि वे पापा बनने के लिए गोद लेने, सरोगेसी और आईवीएफ जैसे विकल्पों में से किसी एक को चुनने के लिए तैयार हैं. विद्युत, फैशन डिजाइनर नंदिता महतानी के साथ रिश्ते में हैं.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, विद्युत जामवाल ने एक बयान में कहा, ‘मैं गोद ले सकता हूं, मैं आईवीएफ, सरोगेसी का विकल्प चुन सकता हूं. मैं हर चीज के लिए खुला हूं. बच्चा तो बच्चा है, और कुछ सोचने की जरूरत ही नहीं है. अगर कोई बच्चा चाहता है, तो उन्हें लाना चाहिए, क्योंकि बच्चा ईश्वर की योजना का हिस्सा है. अगर उसे आपके जीवन में आना है, तो वह आएगा.’

विद्युत ने पिछले साल सितंबर में नंदिता महतानी के साथ अपनी सगाई की घोषणा की थी. कपल अपने रिश्ते के बारे में चुप थे और विद्युत द्वारा सोशल मीडिया पर जानकारी दिए जाने तक, किसी को भी उनकी डेटिंग के बारे में पता नहीं था. ऐसी भी अफवाहें हैं कि विद्युत और नंदिता पहले से शादीशुदा हो सकते हैं.

‘खुदा हाफिज चैप्टर 2’ में नजर आए थे विद्युत जामवाल
विद्युत की फिल्म ‘खुदा हाफिज चैप्टर 2 अग्नि परीक्षा’ साल 2020 की फिल्म ‘खुदा हाफिज’ की सीक्वल थी और इसका निर्देशन फारुक कबीर ने किया था. फिल्म में विद्युत जामवाल ने समीर चौधरी का रोल निभाया था और शिवालिका ओबेरॉय को उनकी पत्नी नरगिस चौधरी के रूप में दिखाया गया था. रिद्धि शर्मा उनकी बेटी नंदिनी चौधरी के रूप में नजर आई थीं. फिल्म कपल और उनकी गोद ली हुई बेटी के इर्द-गिर्द घूमती है.

विद्युत जामवाल ने अपने काम के बारे में बताया
विद्युत ने फिल्म में अपनी भूमिका के बारे में बात करते हुए कहा था, ‘मुझे लगता है कि मैं एक बच्चे को खोने की इमोशनल उतार-चढ़ाव से गुजर रहा हूं. मुझे लगता है कि यह अब तक का सबसे चुनौतीपूर्ण पल हो सकता है. आप कुछ भी खो सकते हैं, लेकिन बच्चे को खोने का विचार ऐसा है, जिसे मुझे लगता है कि कोई भी माता-पिता बर्दाश्त नहीं कर सकता.’

विद्युत जामवाल ने जब की नई पीढ़ी की तारीफ
विद्युत ने फिल्म में रिद्धि के साथ काम करने के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा, ‘बच्चों के साथ काम करने की कोई प्रक्रिया नहीं होती. जब बच्चा या जानवर परफॉर्मेंस का आनंद लेना चाहता है, तो वे करते हैं और मुझे लगता है कि हमें धैर्य के साथ उनके तैयार होने का इंतजार करना चाहिए. मैं 4000 बच्चों को ट्रेनिंग देने के लिए लंदन गया था और वे इतने अद्भुत थे कि उन्हें सब कुछ याद था. इस नई पीढ़ी के बारे में कुछ दिलचस्प है.’

Tags: Vidyut Jamwal

Source link

क्या अनानास खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ जाता है? यहां जानिए फायदे-नुकसान

Punjabi Kadhi Pakoda Recipe: स्वाद से भरपूर पंजाबी कढ़ी पकोड़ा इस तरह बनाएं