in

सपनो के जहाँ से अब लौट आऔ,

सपनो के जहाँ से अब लौट आऔ,
हुई हे सुबह अब जाग जाओ,
चांद– तारों को अब कह कर अलविदा,
इस नए दिन की खुँशियों मे खो जाओ !

Subha Subha Suraj Ka Sath Ho,

.Pyari Si ‘* Subah Me