in

सफेद और गुलाबी अमरूद में कौन है ज्यादा हेल्दी? एक्सपर्ट से जानें दोनों में फर्क और इस फल के फायदे

हाइलाइट्स

अमरूद ब्लड शुगर लेवल कम करने में मदद करता है.गुलाबी अमरूद में सफेद की तुलना में पानी की मात्रा अधिक होती है.

Benefits of Guava: अमरूद एक ऐसा फल जो ना सिर्फ सस्ता होता है, बल्कि हर किसी का फेवरेट भी होता है. अमरूद की कई किस्में होती हैं, कोई अंदर से सफेद होता है, तो कोई बेहद गुलाबी. अमरूद स्वाद में खट्टा-मिठा होता है और यह पेट के लिए बहुत फायदेमंद फल है. इसमें कुछ ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो आपको कई तरह के रोगों से बचाए रखते हैं. एक्सपर्ट भी हमेशा मौसमी फलों को डाइट में शामिल करने के लिए कहते हैं. अमरूद का भी सीजन आने वाला है, इसलिए आप इसका सेवन ज़रूर करें. हालांकि, कुछ लोग अमरूद की वेरायटी को लेकर भी असमंजस में रहते हैं. उन्हें समझ नहीं आता है कि सफेद गूदे वाला अमरूद खाना अधिक फायदेमंद है या गुलाबी. इस बारे में डाइटिशियन शिखा कुमारी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर महत्वपूर्ण जानकारी दी है और अमरूदों के फायदे भी बताए हैं.

इसे भी पढ़ें: सर्दी में डायबिटीज मरीजों के लिए बेहद असरदार है अमरूद

अमरूद में मौजूद पोषक तत्व

अमरूद एंटीमाइक्रोबियल, एंटीफंगल, विटामिन सी, के, बी6, फोलेट, नियासिन, एंटीडायबिटिक, एंटी-डायरियल, आयरन, फॉस्फोरस, कैल्शियम, पोटैशियम, जिंक, कॉपर, कार्बोहाइड्रेट, डायटरी फाइबर आदि पोषक तत्वों से भरपूर होता है. यह पेट संबंधित समस्याओं से बचाता है. अमरूद खाने से कब्ज जैसी समस्या नहीं होती है. डायटरी फाइबर होने के कारण यह ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करता है. ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को अमरूद का सेवन ज़रूर करना चाहिए.

सफेद और गुलाबी अमरूद में क्या फर्क है?

-डाइटिशियन शिखा कुमारी ने कैप्शन में लिखा है, गुलाबी अमरूद में पानी की मात्रा अधिक होती है. चीनी और स्टार्च कम होता है. विटामिन सी और बीज कम या बीज रहित होता है. इसे आप ड्रिंक के तौर पर पिएंगे तो अच्छा महसूस होगा. वहीं, सफेद अमरूद में अधिक चीनी, स्टार्च, विटामिन सी और अधिक बीज होते हैं. सफेद गूदे वाले अमरूद में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है और गुलाबी अमरूद में ये सभी तत्व और भी ज्यादा होते हैं.

-गुलाबी अमरूद में कैरोटीनॉयड नामक ऑर्गैनिक पिगमेंट होता है. ये पिगमेंट ही गाजर और टमाटर को लाल रंग देता है. कैरोटीनॉयड में मौजूद कंसन्ट्रेशन अलग-अलग किस्मों के अमरूदों में भिन्न होती है. इसी आधार पर ये सफेद, हल्के गुलाबी से लेकर गहरे गुलाबी रंग के होते हैं. वहीं, सफेद अमरूद की कैरोटीनॉयड सामग्री उसके गूदे को रंग देने के लिए अपर्याप्त है. साथ ही सफेद और गुलाबी अमरूद के स्वाद में भी थोड़ा फर्क होता है.

-ये कम्पाउंड फलों और सब्जियों को लाल, नारंगी, पीला रंग देते हैं. कैरोटीनॉयड और पॉलीफेनॉल्स कम्पाउंड ही गुलाबी अमरूद के गूदे को गुलाबी रंग देते हैं. दूसरी तरफ, सफेद अमरूद में पर्याप्त कैरोटीनॉयड्स और पॉलीफेनॉल्स नहीं होते हैं.

इसे भी पढ़ें: Guava Side Effects: ज्‍यादा अमरूद खाने से हो सकते हैं नुकसान, कई बीमारियों को दे सकता है दस्‍तक

अमरूद खाने के सेहत लाभ

ब्लड शुगर लेवल कम करने में मदद करता है.

हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है.

पीरियड्स के दौरान होने वाले क्रैम्प, पेट दर्द आदि से राहत दिलाता है.

पाचन तंत्र के लिए बहुत अच्छा होता है.

वजन घटाने में कारगर साबित हो सकता है.

एंटी कैंसर तत्व होते हैं.

रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है.

अमरूद खाने से त्वचा की सेहत दुरुस्त बनी रहती है.

किस तरह करें अमरूद का सेवन

आप अमरूद को काटकर और इस पर नमक लगाकर खा सकते हैं. फलों से तैयार सलाद में भी इसे डाल सकते हैं. साथ ही अमरूद का जूस, स्मूदी भी बनाकर पी सकते हैं. यह फल विटामिन सी से भरपूर होता है, जो इम्यूनिटी को बूस्ट करके आपको कई रोगों से बचाए रख सकता है.

Tags: Eat healthy, Health, Healthy food, Lifestyle

Source link

कंगना रनौत ने करण जौहर पर फिर साधा निशाना, ‘ब्रह्मास्त्र’ की सफलता को लेकर उड़ाया मजाक!

O Sajna Song: नेहा कक्कड़ का नया गाना ओ सजना हुआ रिलीज फाल्गुनी पाठक के गाने का है रीमेक