in

स्टडी- दांतों की परेशानी बढ़ा सकती है लीवर कैंसर का खतरा, ऐसे करें उपाय

हाइलाइट्स

जो व्यक्ति मसूड़ों में खून, माउथ अल्सर आदि से पीड़ित रहते हैं उनमें हेपाटोसेलुलर कार्सिनोमा का खतरा बढ़ जाता हैखराब ओरल हेल्थ के कारण कई तरह के क्रोनिक डिजीज, हार्ट डिजीज, स्ट्रोक आदि का खतरा भी

नई दिल्ली. अक्सर हम दांतों की परेशानी को नजरअंदाज कर देते हैं. लेकिन अगर ज्यादा दिनों तक छोड़ दिया जाए तो इससे कैंसर जैसी घातक समस्या भी हो सकती है. दांतों में गंदगी की समस्या आमतौर पर साफ-सफाई का ध्यान नहीं रखने के कारण होती है. हम सही से ब्रश नहीं करते हैं और जब दांतों के बीच में गंदगी ज्यादा फंस जाती है तो उस पर ध्यान नहीं देते हैं. इससे सड़न पैदा हो जाती है और इसका खामियाजा हमें भुगतना पड़ता है. द डेंटिंस्ट के मुताबिक यूनाइटेड यूरोपियन गेस्ट्रोइंटेरोलॉजी जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि जो व्यक्ति मसूड़ों में खून, माउथ अल्सर और दांतों के टूटने की समस्याओं से पीड़ित रहते हैं उनमें हेपाटोसेलुलर कार्सिनोमा का खतरा 75 प्रतिशत तक बढ़ जाता है.

हेपाटोसेलुलर कार्सिनोमा लीवर संबंधी कैंसर का सबसे आम रूप है. ब्रिटेन के कैंसर रिसर्च के आंकड़ों के मुताबिक ब्रिटेन में हर साल 6200 लीवर कैंसर के नए मामले सामने आ जाते हैं. आंकड़ों के मुताबिक लीवर कैंसर से होने वाली मौतों का 8वां सबसे आम कारण लीवर कैंसर है. जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक क्वीन्स यूनिवर्सिटी बेलफास्ट के शोदकर्ताओं ने अपने अध्ययन में 4,69,628 प्रतिभागियों के आंकड़ों का विश्लेषण किया. इन लोगों में ऐसे लोग शामिल थे जिन्होंने माउथ अल्सर, मसूड़ों में दर्द, मसूड़ों से खून निकलना, दांतों का टूटना आदि की शिकायत की थी. शोधकर्ताओं ने कई सालों तक इनके ओरल हेल्थ पर अध्ययन किया.

यह भी पढ़ेंः Weight Gain Tips: 10 दिनों में बढ़ाना चाहते हैं अपना वजन, तो यहां जानिए 7 आसान उपाय

अध्ययन के आखिर में पाया गया कि इनमें से 4069 ने गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर विकसित हुआ. इन कैंसर मामलों में से 531 (13 प्रतिशत) प्रतिभागियों ने किसी न किसी तरह की खराब ओरल हेल्थ की सूचना दी थी. क्वींस यूनिवर्सिटी के प्रोपेसर डॉ हाइडी जोर्डो ने बताया कि पहले भी खराब ओरल हेल्थ के कारण कई तरह के क्रोनिक डिजीज, हार्ट डिजीज, स्ट्रोक और डायबिटीज के संबंध जुड़े थे लेकिन पहली बार यह पाया गया है कि दांतों की खराब हेल्थ के कारण लीवर कैंसर भी हो सकता है.

क्या करें
दांतों की नियमित रूप से सफाई करें. विशेषज्ञों के मुताबिक रात में सोते समय जरूर ब्रश करना चाहिए. जब दांतों में गंदगी ज्यादा हो जाए तो बेकिंग सोडा में नींबू का रस मिला दें और इससे दांतों को साफ करें. इसके अलावा पीले दांतों को साफ करने के लिए सरसों के तेल में नमक लगाकर दांतों पर रगड़ें. इससे दांतों के अंदर फंसे बैक्टीरिया मर जाएंगे. घरेलू उपाय के बावजूद अगर दांतों में किसी तरह का दर्द या मसूड़ों से खून आए तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Siya Movie Review: क्‍या ह‍िंदी स‍िनेमा में कहान‍ियां नहीं स्‍टार्स ही चलते हैं…? जवाब के ल‍िए ये फ‍िल्‍म देख‍िए

अमिताभ बच्चन नहीं जानते क्या होता है ‘मोमोज’, चाट-पानी पूरी नहीं… इस फास्ट फूड के फैन हैं ‘शहंशाह’