in

30 की उम्र के बाद दांतों को होती है एक्‍स्‍ट्रा केयर की ज़रूरत, इन बातों का रखें ख्‍याल

हाइलाइट्स

एक्‍सपोजर बढ़ने से दांतों में सड़न की संभावना भी बढ़ने लगती है. तनाव का असर हमारी दांतों और मसूड़ों की सेहत पर भी पड़ता है.

Dental Care After 30: उम्र बढ़ने के साथ सेहत को लेकर हमें अधिक सतर्क होना पड़ता है. कई लोगों की शिकायत होती है की 30 की उम्र के बाद उनके दांतों में कैविटी या मसूडों में दर्द की समस्‍या बढ़ जाती है, जो आगे जाते-जाते कई और समस्‍याओं का कारण बन जाते हैं. ऐसे में ज़रूरी है कि हम सही उम्र से ही दांतों का एक्‍स्‍ट्रा ख्‍याल रखें. यही नहीं, इसके लिए यह भी ज़रूरी है कि हम दांतों का समय-समय पर चेकअप कराते रहें. इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत करते हुए डेंट डेंटल की हेड डेंटल सर्जन डॉ. करिश्‍मा जारादी ने बताया कि ओरल हाइजीन और उम्र का सीधा संबंध होता है. उम्र बढ़ने के साथ ही डेंटल हेल्‍थ की जिम्‍मेदारी भी बढ़ने लगती है. जैसे ही आप 30 की उम्र में पहुंचते हैं, आपके दांतों के एनेमल में काफी बदलाव आने शुरू हो जाते हैं. आइए जानते हैं कि 30 की उम्र के बाद दांतों में क्‍या बदलाव आते हैं और इससे बचने के लिए क्‍या किया जा सकता है.

30 की उम्र के बाद दांतों की देखभाल 

दांतों मे सड़न
एक्‍सपोजर बढ़ने की वजह से 30 की उम्र के बाद दांतों में सड़न की संभावना बढ़ने लगती है. कैविटी आमतौर पर तब विकसित होती हैं, जब दांतों के एनेमल और रूट में माइक्रोऑर्गेनिज्‍म  होते हैं, जो दांतों में डिस्‍कलरेशन और दर्द की वजह बनते हैं. यह दांतों में ब्रश करने के बावजूद हो सकता है. ऐसे में 30 साल की उम्र के बाद डॉक्‍टर से जरूर दांतों को चेकअप कराते रहना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखता है इलायची का पानी, दूर होती है गैस की समस्या

 तनाव का दांतों पर असर
लाइफ में तनाव का असर हमारे शारीरिक मानसिक सेहत को जिस तरह प्रभावित करता है, उसी तरह ये मसूड़ों की सेहत को भी प्रभावित करता है. तनाव की वजह से दांतों पर क्रैक्‍स आ सकते हैं, दांत सेंसिटिव हो सकते हैं और मसूड़े कमजोर हो सकते हैं.

विजडम टूथ
17 से 25 साल की उम्र तक कुछ लोगों का विजडम टूथ की वजह से काफी दिक्‍कत आती है. डॉ. जरादी के मुताबिक, ऐसे में 30 साल की उम्र तक इस दांत को निकाल देना बेहतर होता है, क्‍योंकि ये उम्र के साथ और भी समस्‍या पैदा कर सकता है. यह मसूड़ों, दांत और आसपास के नर्व को भी प्रभावित करता है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दी-खांसी से लेकर जोड़ों के दर्द तक में आराम देती हैं अडूसा की पत्तियां, इस तरह करें इस्तेमाल

Tags: Health, Lifestyle

Source link

अभिषेक बच्चन को ट्रोल ने कहा ‘बेरोजगार’, एक्टर ने दिया करारा जवाब- पढ़ें TWEET

Bigg Boss 16: अंकित ने अपने रिश्ते को लेकर कही ऐसी बात, दंग रह गईं प्रियंका, खुशी का नहीं रहा ठिकाना