in

First Degree Burn: क्या होता है फर्स्ट डिग्री बर्न, जानें शरीर पर इसका असर और उपचार

हाइलाइट्स

फर्स्‍ट डिग्री बर्न में काफी दर्द और जलन का अहसास होता है. फर्स्‍ट डिग्री बर्न गर्म पानी, चाय या तेल से हो सकता है.बर्न के दर्द को कम करने के लिए शहद का प्रयोग किया जा सकता है.

What Is First Degree Burn-  शरीर का किसी भी प्रकार से जलना बर्न कहलाता है. ये बर्न गर्म चाय, पानी, तेल या फिर गर्म बर्तन स्किन पर टच हो जाने के कारण हो सकता है. स्किन का जलना एक सामान्‍य समस्‍या है लेकिन जलने के बाद दर्द और स्किन इंफेक्‍शन का खतरा बढ़ जाता है. ये चोट स्किन की पहली परत को प्रभावित करती है. बर्न को चार भागों में विभाजित किया गया है जिसमें फर्स्‍ट डिग्री बर्न सबसे सामान्‍य चोटों में से एक है. जिसका सामना अधिकतर  किचन में काम करने वाली महिलाएं करती हैं.

हालांकि इस बर्न का कोई मेडिकल ट्रीटमेंट नहीं है लेकिन कुछ घरेलू उपचार से इन्‍हें ठीक किया जा सकता है. चलिए जानते हैं फर्स्‍ट डिग्री बर्न क्‍या होता है और क्‍या हैं उसके उपचार.

क्‍या है फर्स्‍ट डिग्री बर्न
बर्न की समस्‍या का सामना आए दिन कोई न कोई करता है. ये एक सामान्‍य समस्‍या है जिसका घर में ही ट्रीटमेंट किया जा सकता है. हेल्‍थ लाइन के अनुसार फर्स्‍ट डिग्री बर्न को सुपरफिशियल बर्न या घाव भी कहा जाता है. ये एक सामान्‍य चोट है जो स्‍किन की पहली परत को प्रभावित करती है. फर्स्‍ट डिग्री बर्न को बर्न की सबसे हल्‍की कैटेगरी में रखा गया है जिसे आमतौर पर चिकित्‍सा उपचार की आवश्‍यकता नहीं होती. फर्स्‍ट डिग्री बर्न गर्म चाय, गर्म पानी, गर्म तेल, सन बर्न और गर्म बर्तन के टच होने पर हो सकता है. ये काफी दर्दनाक हो सकता है जिसमें कई बार फफोले भी पड़ सकते हैं.

फर्स्‍ट डिग्री बर्न के कारण
– सनबर्न- सनबर्न भी फर्स्‍ट डिग्री बर्न की कैटेगरी में आता है. सनबर्न तब होता है जब कोई व्‍यक्ति अधिक देर तक धूप में रहता है और उसकी स्कि‍न पर बर्न के लाल चकत्‍ते, छाले और दानें हो जाते हैं.

– स्‍कैल्‍ड- स्‍कैल्‍ड फर्स्‍ट डिग्री बर्न का एक सामान्‍य कारण है. गर्म पानी या गर्म खाने से निकलने वाली भाप से जो बर्न होता है उसे स्‍कैल्‍ड कहा जाता है. इससे फेस और हाथ जल सकता है. अत्‍यधिक गर्म पानी से नहाने से भी ये हो सकता है.

– बिजली- बिजली के सॉकेट, तार या किसी उपकरण से करेंट लगने को भी फर्स्‍ट डिग्री बर्न कहा जाता है. बिजली से होने वाले बर्न में व्‍यक्ति को झटका लग सकता है और स्किन लाल हो सकती है.

इसे भी पढ़ें-देर रात तक जागकर पढ़ना चाहते हैं तो इन फूड्स का सेवन करके बढ़ाएं लर्निंग पावर

फर्स्‍ट डिग्री बर्न के उपचार
– कूल कंप्रेस- बर्न होने पर काफी दर्द और जलन होती है जिसे शांत करने के लिए कूल कंप्रेस का सहारा लिया जा सकता है. इसके लिए आईस बैग से 15 मिनट सिकाई की जा सकती है जिससे दर्द और सूजन को कम किया जा सकता है.

–ऑयल और बटर का प्रगोग– बर्न वाली जगह पर तेल या बटर लगाने से आराम मिलता है. इसके अलावा एलोवेरा जेल का प्रयोग कर सकते हैं. इससे जलन को कम किया जा सकता है.

– शहद– शहद में एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो बर्न से होने वाले दर्द, जलन और फफोले को कम किया जा सकता है. शहद का प्रयोग करने से स्किन को ठंडक भी मिलेगी.

Tags: Health, Health problems, Lifestyle

Source link

Rashmika Mandanna: विजय देवरकोंडा को डेट कर रही हैं रश्मिका मंदाना? बोलीं- ‘हम किसी को निराश नहीं करेंगे…’

Bigg Boss 16: रियल लाइफ में बेहद बोल्ड है पवन सिंह की हीरोइन, बिग बॉस के घर में बिखेरेगी हुस्न की जलवा