in

Happy Birthday Kiran Kumar: नेगेटिव किरदारों ने दिलाई पहचान, खलनायक बन किरण कुमार ने जीता ऑडियंस का दिल

नई दिल्ली-  किरण कुमार (Kiran Kumar) का जन्म 20 अक्टूबर 1953 को मुंबई में हुआ था. किरण कुमार का जन्म एक कश्मीरी पंडित परिवार में हुआ था. उनका असल नाम दीपक धार था. किरण वेटरन एक्टर जीवन कुमार के बेटे हैं. उन्होंने मुंबई के आरडी नेशनल कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी की है. एक्टिंग से बचपन का नाता होने के कारण वह हमेशा से अभिनय की ओर खींचे चले जाते थे. इसलिए उन्होंने अपना ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद पुणे में स्थित भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान (FTII) में दाखिला लिया था.

किरण कुमार ने अपने करियर की शुरुआत थिएटर से की थी. उसके बाद उन्होंने हिन्दी, गुजराती और भोजपुरी फिल्मों में काम किया. किरण के करियर में टीवी इंडस्ट्री ने काफी अहम भूमिका निभाई है. उन्होंने न सिर्फ हिन्दी टेलीविजन के लिए काम किया है बल्कि साथ ही कई भोजपुरी और गुजराती शो भी किए हैं.

किरण कुमार ने 1971 में आई फिल्म ‘दो बूंद पानी’ में मुख्य भूमिका निभाई थी. इस फिल्म ने उन्हें उनके करियर का ब्रेक दिया था और उसके बाद उन्होंने कई सारी फिल्मों में लीड रोल अदा किया था. लेकिन फिर उनके करियर में एक ऐसा दौर भी आया जब उनकी ज्यादातर फिल्में कोई खास कमाल नहीं कर पा रही थीं.

नेगेटिव किरदारों ने दिलाई पहचान-
राकेश रोशन की फिल्म ‘खुदगर्ज’ से उन्होंने हिन्दी सिनेमा में वापसी की थी. इस बार उन्होंने बतौर विलन वापसी की और वह सबके दिलों पर छा गए. उसके बाद उन्होंने ‘तेजाब’ और ‘खुदा गवाह’ जैसी फिल्मों में नेगेटिव किरदार निभा खूब वावाही लूटी.

कई सारी फिल्मों और सीरियल में किया है काम-
किरण ने अपने करियर में कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा और उन्होंने उन्हें मिलने वाले छोटे-बड़े सभी किरदारों को बखूबी निभाया. उन्हें ‘धड़कन’, ‘बॉबी जासूस’, ‘छज्जे छज्जे का प्यार’, ‘गृहस्थी’, ‘कथा सागर’, ‘और फिर एक दिन’, ‘बिंदिया और बंदूक’ जैसी फिल्मों और सीरियल में देखा गया है.

Tags: Bollywood actors, Entertainment news., TV

Source link

प्रॉब्‍लम फ्री स्किन के लिए जरूरी है ‘नाइट क्रीम’, जानें इस्‍तेमाल का तरीका

वजन घटाना चाहते हैं तो आज से शुरू कर दीजिए अलसी के बीज का सेवन, इस तरह करता है काम