in

रात गुजरी फिर महकती सुबह हे आई ,

रात गुजरी फिर महकती सुबह हे आई ,
दिल धडका फिर आपकी याद हे आई,
आँखो ने महसूस किया हे उस हवा को ,
जो छु कर हमारे पास हे आई…!!”
****** सुप्रभात *********

What do you think?

1000 points
Upvote Downvote

.Pyari Si ‘* Subah Me

Soraj ki pehli kiran