in

डर के माहौल में बच्चों को वायरस के बारे में बताएं लेकिन पैनिक न हो दें, समय-समय पर उनका ध्यान डायवर्ट करें


दैनिक भास्कर

Mar 18, 2020, 10:50 AM IST

मानसी ज़वेरी, एडिटर, kidsstoppress.com
अधिकांश शहरों के ऑफिस वर्क-फ्रॉम-होम की योजना अपना रहे हैं। स्कूल बंद हो चुके हैं। मूवी हॉल भी बंद हैं। सार्वजनिक जगहों पर जन्मदिन की पार्टियों को रद्द किया जा रहा है। हम डिनर टेबल पर “कैजुअल्टी’ की बढ़ती संख्या के बारे में चर्चा कर रहे हैं। पैरेंट्स के तौर पर क्या आप सोचती हैं कि बच्चों को इस बारे में समझा पा रही हैं या नहीं?
बच्चे ये जरूर सोच रहे होंगे कि माता-पिता स्वच्छता को लेकर इतने उतावले क्यों हो रहे हैं और क्यों उनका व्हाट्सएप और समाचार चैनल कोरोना वायरस के बारे में ही चर्चा कर रहा है। इन सारी बातों से बच्चे आश्चर्यचकित हो रहे हैं। तो आज हम आपकी बच्चों को बेहतर तरह से समझने में मदद कर रहे हैं-

  • बच्चों को COVID-19 की रासायनिक संरचना समझाकर उन्हें विद्वान बनाने की जरूरत नहीं है, लेकिन उनको बिना कुछ बताए ये भी न कहें कि “यह चिंता की बात नहीं है।’ उन्हें इस वायरस की जरूरी जानकारी देना आवश्यक है।
  • उन्हें समझाएं कि इसकी शुरुआत कैसे हुई और कैसे और क्यों ये इतनी तेजी से फैल रहा है। ये बहुत महत्वपूर्ण है कि उन्हें दुनियाभर में क्या हो रहा है, इसके बारे में जानकारी हो।
  • सुनिश्चित करें कि आपको पता है कि आप अपने बच्चों को कीटाणुओं से कैसे बचा सकती हैं। बच्चों को छींकने, हाथ धोने और साफ-सफाई रखने के सही तरीके सिखाएं। अपने दैनिक व्यवहार में इन सब चीजों को आदत बनाने का यही बेहतर समय है।
  • ये सब जानकार बच्चे चिंतित और तनावग्रस्त भी हो सकते हैं। उनसे बात करें और समझें कि वे क्या सोच रहे हैं और उनके सवालों का जवाब दें। हमारी तुलना में बच्चों को चिंता जल्दी होती है। इस समय उनके डर को दूर करना हमारी जिम्मेदारी है। यह भी सुनिश्चित करें कि वे गलत समाचारों से बचे रहें।
  • हम समझते हैं कि ऐसी स्थितियों में बच्चों का मनोरंजन करना कितना मुश्किल होता है। कुछ बच्चे इतने छोटे हैं कि उन्हें हम समझा भी नहीं सकते कि महामारी क्या होती है। आपकी इस परेशानी को दूर करने के लिए हम आपको ऐसी ट्रिक बता रहे हैं जो बच्चों को पसंद है और उससे आप बच्चों का मनोरंजन भी कर सकती हैं।
  • आप बच्चों को Spotify, Sound Cloud, Apple Podcast, Alexa, Saavn आदि एप्स पर विभन्न प्रकार के डिजिटल ऑडियो के एपिसोड्स (पॉडकास्ट) सुना सकती हैं। जैसे कि कहानियां, लोक कथा, प्रख्यात लोगों के ऑडियो, खेल और कई अन्य जानकारियां। बच्चों के लिए उनकी उम्र के हिसाब से किताबें होम डिलीवर करवाएं और उन्हें पढ़ाएं। आप उन्हें नए इनडोर-गेम्स भी सिखा सकती हैं।
  • घर पर मौजूद सामान और DIY (डू इट युअरसेल्फ) वीडियोस दिखाकर उन्हें नई चीजें बनाना सिखा सकती हैं। बच्चों की इम्युनिटी बेहतर करने के लिए इम्युनिटी बूस्टर ड्रिंक, सोंठ के लड्डू, खजूर पाक और हल्दी दूध बनाकर दे सकती हैं।



Source link

What do you think?

1000 points
Upvote Downvote

महिलाओं में पुरुषों से अलग होते हैं Heart Failure के कारण और लक्षण

इन 7 तरीकों से मुलेठी बढ़ाती है रोग प्रतिरोधक क्षमता