in

Air Pollution: डायट और लाइफस्टाइल ठीक होने पर भी मोटा बनाती है यह वजह


Published By Garima Singh | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

यह अलग बात है कि हम अपने बचपन में Air Pollution के बारे में बहुत अधिक नहीं जानते थे। लेकिन आजकल छोटे-छोटे बच्चों को पता है कि एयर पलूशन सांस और आंखों से संबंधित बीमारियों की वजह हो सकता है। लेकिन बच्चों के साथ ही बड़े लोग भी इस बात को लेकर कम जागरूक हैं कि एयर पलूशन का बढ़ता स्तर बढ़ते मोटापे की वजह हो सकता है…

मोटापे की अलग-अलग वजह

बढ़ते मोटापे को दुनियाभर के देश कंट्रोल करना चाहते हैं। यहां विकसित और विकासशील देशों की बात हो रही है। खास बात यह है कि कुछ जगहों पर मोटापे की वजह फास्ट फूड और लेजी लाइफस्टाइल है तो कहीं कुपोषण भी शरीर पर चढ़ी चर्बी की वजह है।

एयर पलूशन है नई चुनौती

लाइफस्टाइल से जुड़ी परिस्थितियों के साथ ही बढ़ते मोटापे के कारण के रूप में एक और बड़ी वजह सामने आ रही है औक वह है एयर पलूशन। अब एयर पलूशन पूरी दुनिया के लिए चुनौती का रूप ले चुका है। इस कारण ना केवल क्लाइमेट पर असर हो रहा है बल्कि इंसान का शरीर अब अधिक बीमार रहने लगा है।

यह भी पढ़ें: लाइम डिजीज के बारे में वो सबकुछ जो आपको जानना चाहिए

पलूशन से गट बैक्टीरिया को नुकसान

पलूशन में लंबे समय तक रहने के कारण हवा में मौजूद प्रदूषण के कण सांस के जरिए हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। ये कण हमारे शरीर में मौजूद गट बैक्टीरिया, जो कि हमारी हेल्थ के लिए जरूरी और अच्छे बैक्टीरिया हैं, उन्हें नुकसान पहुंचाते हैं और उनकी ग्रोथ को रोकते हैं।

NBT

एयर पलूशन हो सकता है आपके बढ़ते मोटापे की वजह

पलूशन से ऐसे बढ़ता है मोटापा

गट बैक्टीरिया के नुकसान के कारण हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है। शरीर की इंसुलिन को नियंत्रित करने और फैट को तोड़ने की क्षमता कम होने लगती है। इससे अनेक तरह की बीमारियां हमारे शरीर में पनपने लगती हैं। इनमें डायबीटीज और मोटापा भी शामिल है।

यह भी पढ़े:इस ब्यूटी मास्क से 46 की उम्र में 26 की दिखती हैं ऐश्वर्या

बन चुका है ग्लोबल रिस्क

ऐसा नहीं है कि एयर पलूशन किसी देश विशेष की समस्या है। बल्कि यह पूरी दुनिया के लिए घातक बनती जा रही है। आमतौर पर विकसित और विकासशील देशों में एयर पलूशन की समस्या चरम पर है। अपने देश में दिल्ली-NCR तो दुनिया की चंद सबसे पॉल्यूटेड जगहों में शामिल है। ऐसे में यहां दिन पर दिन लोगों की सेहत गिरना बड़ी चुनौती बन रही है।

ऐसे रखें अपना ध्यान

जाहिर तौर पर एयर पलूशन से बचने के लिए आपको उन स्थानों पर रहने की कोशिश करनी होगी, जहां इस तरह की समस्या नहीं है या बेहद कम है। लेकिन आप घर के अंदर के पलूशन को कम कर सकते हैं। जैसे स्मोकिंग, धूपबत्ती या अगरबत्ती का अधिक उपयोग, अधिक तेल-मसाले के साथ खाने में तड़का लगाना आदि चीजों से बचें। सुबह सवेरे वॉक और जॉगिंग करें। इस समय पलूशन आमतौर पर कम होता है। एक्सर्साइज से आपके आपके फेफड़े मजबूत होंगे और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी।

यह भी पढ़ें:बीमारी का लक्षण है दूसरे की लाइफ में ज्यादा दिलचस्पी लेना, होती है इलाज की जरूरत



Source link

What do you think?

1000 points
Upvote Downvote

नीता अंबानी के सबसे महंगे और अजीबोगरीब शौक, चाय के कप की कीमत जानकर आप के होश उड़ जाएंगे

महिलाओं में पुरुषों से अलग होते हैं Heart Failure के कारण और लक्षण