in

Lung Cancer: युवाओं में फैल रहा है लंग कैंसर, जानें इसके कारण और पहचानें शरुआती लक्षण

हाइलाइट्स

सांस लेने में परेशानी हो सकती है लंग कैंसर की निशानी. सिगरेट और तंबाकू चबाने से हो सकता है लंग कैंसर.3 हफ्ते से ज्‍यादा पुरानी खांसी होने पर न करें लापरवाही.

Symptoms Of Lung Cancer : कई लोग ऐसा मानते हैं कि लंग कैंसर केवल अधिक उम्र के लोगों को होता है. लेकिन ऐसा बिल्‍कुल नहीं है, ये युवाओं को भी हो सकता है. ये बात जरूर है कि सामान्‍यतौर पर युवाओं को लंग कैंसर काफी कम संख्‍या में होता है. युवाओं में होने वाला लंग कैंसर का कारण और प्रकार अधिक उम्र के लोगों की तुलना में भिन्‍न होते हैं. ये देखा गया है कि पिछले कुछ सालों में युवाओं के बीच लंग कैंसर के मामले तेजी से बढ़े हैं.

युवाओं में होने वाला लंग कैंसर यदि समय रहते पता चल जाए तो उसे उचित उपचार के जरिये आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है. चलिए जानते हैं क्‍या हैं लंग कैंसर के लक्षण और इन्‍हें किस प्रकार पहचान सकते हैं.

युवाओं में लंग कैंसर होने की वजह
वैसे तो लंग कैंसर का सीधा संबंध स्‍मोकिंग से है, करीब 85 प्रतिशत लंग कैंसर के मामले सीधे तौर पर सिगरेट पीने से जुड़े होते हैं. ओनलीमाई हेल्‍थ के मुताबिक भारत में सबसे ज्‍यादा लोग लंग कैंसर से पीडि़त होते हैं. ये कैंसर अक्‍सर 40 की उम्र में होता है लेकिन बहुत ज्‍यादा कार्सिनोजेनिक केमिकल्‍स के संपर्क में रहने से 25 से 30 साल के युवा भी इसके शिकार बन रहे हैं.

तंबाकू है सबसे बड़ी वजह
तंबाकू का सेवन लंग कैंसर का सबसे बड़ा कारण है. आजकल 30 साल से कम उम्र के युवाओं के बीच तंबाकू का सेवन करने का चलन तेजी से बढ़ रहा है. वे इसे सिगरेट या गुटखा के माध्‍यम से लेते हैं. तंबाकू में निकोटिन होता है और निकोटिन में 10,000 कार्सिनोजेंस होते हैं, जो लोग कम उम्र में या बड़े ग्रुप में स्‍मोकिंग करते हैं उन्‍हें आगे चलकर लंग कैंसर होने का खतरा सबसे ज्‍यादा होता है.

लंग कैंसर एक्टिव और पैसिव स्‍मोकर दोनों को अपना शिकार बनाता है. यदि कोई युवा स्‍मोक नहीं कर रहा है लेकिन ऐसे लोगों के साथ रहता है जो स्‍मोकिंग कर रहे हैं, तब भी उसे लंग कैंसर होने की आशंका हो सकती है.

यह भी पढ़ेंः पुरुषों को महिलाओं की अपेक्षा कैंसर का खतरा ज्यादा, जानें वजह

लंग कैंसर के लक्षण
सांस लेने में समस्‍या – अगर सांस लेने में समस्‍या हो रही है और घरघराहट की आवाज होती है तो यह लंग कैंसर का एक लक्षण हो सकता है. लंग कैंसर से फेफड़ों में सूजन आ जाती है, जिससे गला बंद होने लगता है.
खांसते समय खून आना – खांसी अगर तीन हफ्ते से ज्‍यादा समय से परेशान कर रही है और खांसते समय बलगम के साथ खून भी आता है तो यह लंग कैंसर हो सकता है.

वजन लगातार कम होना – बिना कसरत और डाइटिंग के अगर वजन कम हो रहा है तो यह लंग कैंसर का लक्षण हो सकता है. कैंसर सेल्‍स की वृद्धि से भूख कम लगना और शरीर का वजन कम होने की समस्‍या हो सकती है.

शरीर में दर्द रहना – शरीर के किसी भी हिस्‍से में लंबे समय तक दर्द बना रहता है तो इसे अनदेखा न करें. यह लंग कैंसर का लक्षण हो सकता है. लंग कैंसर के मरीजों को छाती, कंधों या पीठ में दर्द की समस्‍या हो सकती है.

यह भी पढ़ेंः मोटापे को लेकर कहीं आपके दिमाग में तो नहीं ये बड़ी गलतफहमी?

लंग कैंसर के प्रकार
लंग कैंसर मुख्‍य रूप से दो प्रकार के होते हैं और दोनों का ही उपचार बिल्‍कुल अलग-अलग तरीके से किया जाता है.
–  नॉन-स्‍माल सेल लंग कैंसर (NSCLC)
–  स्‍माल सेल लंग कैंसर (SCLC)

Tags: Cancer, Health, Lifestyle

Source link

विवादों में है Box Office पर ताबड़तोड़ कमाई करने वाली Kantara का ये गाना, लगा चोरी करने का आरोप

प्रदीप पांडे चिंटू और काजल राघवानी की फिल्म ‘पड़ोसन’ का फर्स्ट पोस्टर रिलीज, पंजाबी लुक में दिखे स्टार्स