Latest stories

  • फ्रीलांसिंग कॅरियर में बनाने के लिए ध्यान रखें; पहले अपनी काबिलियत को समझें और कॉन्ट्रेक्ट करने के बाद ही काम करें

    View full post

    दैनिक भास्कर

    Mar 18, 2020, 11:00 AM IST

    रूमानी सैकिया फुकन, डिजिटल कंटेंट हेड, gharsenaukri.comआज के समय में फ्रीलांसिंग जॉब का बहुत चलन है। जॉब मार्केट में फ्रीलांसिंग के ढेरों अवसर हैं। आप घर बैठे विदेशों से भी प्रोजेक्ट हासिल कर सकती हैं। फ्रीलांसर्स यूनियन के अनुसार, 54 मिलियन अमेरिकी लेखन, ग्राफिक डिजाइन और कंसल्टिंग जैसे क्षेत्रों में फ्रीलांसर के तौर पर काम कर रहे हैं। भारत में भी भारतीय “फ्रीलांसर्स’ का बाजार 2025 तक लगभग 1.48 लाख करोड़ रुपए तक बढ़ने का अनुमान है। यदि आप कुछ कारणों से अपने कॅरिअर को छोड़ देती हैं और कुछ वर्षों के बाद फिर से काम करना चाहती हैं, तो आप अपनी फील्ड में लेखन शुरू कर सकती हैं।

    4 स्टेप : फ्रीलांसिंग कॅरिअर को ऐसे बनाएं सफल

    फ्रीलांसिंग को कॅरिअर के तौर पर गंभीरता से लेंइसे केवल ‘खाली समय’ में टाइम-पास करने के लिए न करें। कुछ महिलाएं ऐसी हैं जो कभी फुल-टाइम और कभी फ्रीलांसर के तौर पर काम करती हैं। लेकिन, मेरी राय है कि फ्रीलांसिंग को एक वैकल्पिक कॅरिअर के तौर पर नहीं अपनाना चाहिए। फ्रीलांसिंग में भी समर्पित समय और ऊर्जा को वैसे ही दें जैसे आप फुल-टाइम जॉब के लिए समर्पित करती हैं। शुरुआत में, ज्यादा कमाई नहीं होती, लेकिन उम्मीद नहीं खोना चाहिए। रोज नया काम खोजें और अपनी क्षमता के अनुसार कई प्रोजेक्ट्स पर काम करें। आपके रिज्यूमे में जितने अधिक प्रोजेक्ट्स होंगे, आगे जाकर आपको उतने ही बड़े और बेहतर प्रोजेक्ट्स मिल सकते हैं।

    अपनी काबिलियत को जानेंसिर्फ इसलिए कि आप फ्रीलांसिंग काम कर रही हैं, इसका यह मतलब नहीं है कि आप अपने ‘पे पैकेज’ से समझौता करने को तैयार हैं। यदि आप किसी प्रोजेक्ट के लिए 15,000 रुपए की योग्य हैं तो बेझिझक इतने ही […]

    Read More

    702 points
    Upvote Downvote