in

weight loss tips: मोटापा कम करना है तो अपनाएं ये तरीका, कुछ ही हफ्ते में दिखना लगेगा असर

हाइलाइट्स

मोटापा कम करने के लिए खाना खाने का सही समय 7 बजे सुबह से लेकर 3 बजे दिन तक का हैअध्ययन में इंटरमिटेंट फास्टिंग के प्रभावों का विश्लेषण किया

नई दिल्ली. मोटापा आज दुनिया की बहुत बड़ी समस्या है. गतिहीन जीवनशैली, गलत खान-पान और समय के अभाव ने मोटापे की बीमारी को और ज्यादा मुश्किल बना दिया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक दुनिया में 1.9 अरब लोग मोटापे के शिकार हैं. यह आंकड़ा 2016 का ही है. ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि आज मोटापे से पीड़ित लोगों की कितनी बड़ी संख्या है. मोटापा कम करने के लिए लोग तरह-तरह के नुस्खे अपनाते हैं लेकिन अधिकांश लोगों को इससे कोई फायदा नहीं होता. अब एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि अगर सही समय पर खाना खाया जाए तो मोटापा कम हो सकता है.

रात में खाना खाने की मनाही
ओनली माइहेल्थ के मुताबिक बर्मिंघम में यूनिवर्सिटी ऑफ अल्बामा के शोधकर्ताओं ने यह अध्ययन किया है. इस अध्ययन को जामा इंटरनल मेडिसीन में प्रकाशित किया गया है. अध्ययन में दावा किया गया है कि मोटापा कम करने के लिए खाना खाने का सही समय 7 बजे सुबह से लेकर 3 बजे दिन तक का है. यानी यह एक तरह का इंटरमिटेंट फास्टिंग है. ऐसे में अगर आप मोटापा वाकई में कम करना चाहते हैं तो रात को कुछ न खाएं. या 3 बजे दोपहर के बाद खाना खाना बंद कर दें. अध्ययन करने के लिए, शोधकर्ताओं ने अध्ययन में शामिल कुछ प्रतिभागियों को लगभग 14 सप्ताह तक सख्त योजना के मुताबिक डाइट लेने के लिए कहा. इसके अलावा प्रत्येक सप्ताह 150 मिनट की एक्सरसाइज भी करने के लिए कहा गया.

ये भी पढ़ेंः Benefits of buttermilk: सुपर ड्रिंक है बटर मिल्क, कोलेस्ट्रॉल भी करता है कंट्रोल, जाने 5 फायदे

ब्लड प्रेशर का स्तर भी कम हो गया
अध्ययन में चौंकाने वाला परिणाम सामने आया. शोधकर्ताओं ने पाया कि योजना के मुताबिक डाइट को फोलॉ करने वाले प्रतिभागियों ने 2.4 किलोग्राम वजन कम किया. इतना ही नहीं, इन लोगों में ब्लड प्रेशर का स्तर भी कम हो गया और उनमें सकारात्मक विचार भी पनपने लगे. अध्ययन की मुख्य बात यह थी कि प्रतिभागियों ने दोपहर 3 बजे से पहले अपना अंतिम भोजन या रात का खाना खा लिया. इस दौरान प्रतिभागियों के दो समूहों को समयबद्ध आहार का पालन करने के बारे में विशेषज्ञों से निर्देश प्राप्त हुए और उन्हें प्रति सप्ताह कम से कम छह दिनों तक इसका पालन करने के लिए कहा गया.

इस अवधि में मेटाबोलिज्म की सक्रियता अधिक
विशेषज्ञों ने अपने अध्ययन में इंटरमिटेंट फास्टिंग के प्रभावों का विश्लेषण किया और पाया कि दिन भर में कम समय में भोजन करना या आठ घंटे की अवधि के बीच भोजन करना और बाकी समय शरीर को आराम देना वजन कम करने में बहुत फायदा पहुंचाता है. आमतौर पर 12 बजे से रात 8 बजे तक खाना खाने का संकेत लोगों में ज्यादा आता है. लेकिन विशेषज्ञों ने खाना खाना का समय सुबह 7 से दोपहर 3 बजे तक फिक्स कर दिया. अध्ययन में कहा गया कि इस अवधि के दौरान मेटाबोलिज्म की सक्रियता सबसे अधिक रहती है जिससे कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

Bigg Boss 16: सलमान खान का शो 1 अक्टूबर से होगा शुरू? जानें प्रीमियर एपिसोड से जुड़ी डिटेल

आमना शरीफ ने मालदीव वेकेशन से शेयर कीं खूबसूरत PHOTOS, अनोखी ड्रेस में समुद्र किनारे टहलती दिखीं एक्ट्रेस