in

YOGA SESSION: अपनी क्षमता के अनुसार करें योग तो मिलेंगे कई हेल्थ बेनिफिट्स, जान लें सही तरीका

हाइलाइट्स

योगाभ्यास के साथ लाइफस्टाइल में सकारात्मक बदलाव करने चाहिए.सूर्य नमस्कार करने से आपके ध्यान लगाने की क्षमता में वृद्धि होती है.

Yoga Session With Savita Yadav: जीवन में निरोगी रहने के लिए योग का अभ्यास महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. लाइफस्टाइल में छोटे-छोटे बदलाव और योग का रेगुलर अभ्यास करके स्वस्थ रहा जा सकता है. लोगों को आम जिंदगी के कई काम बैठकर करने चाहिए. उठने-बैठने को लेकर सावधानी बरतना जरूरी होता है. योग को लेकर सभी को तीन मंत्र याद रखने चाहिए. पहला योग करते समय सांस कब लेनी है और कब छोड़नी है, इस बात का ध्यान रखना चाहिए. दूसरा योगाभ्यास रेगुलर करना चाहिए और तीसरा योगाभ्यास क्षमतानुसार होना चाहिए. आज योग प्रशिक्षिका सविता यादव ने न्यूज़18 के लाइव योगा सेशन में कई स्वस्थ रहने के लिए कई जरूरी टिप्स दिए और फिर सूर्य नमस्‍कार का अभ्‍यास कराया. आप भी इस बारे में जान लीजिए.

ऐसे करें योगाभ्यास की शुरुआत

सबसे पहले मैट पर आराम से बैठ जाएं. हाथों को घुटने पर रखें और पीठ को सीधा रखें. आंख बंद करके आसपास से ध्यान हटाकर शरीर पर फोकस करें. अपनी आती जाती सांसों को महसूस करें. सजगता के साथ श्वास लें और श्वास छोड़ें. इसके बाद ‘ओम’ शब्‍द का उच्‍चारण करें. छोटी सी प्रार्थना के साथ ध्यान शुरू करें. फिर कुछ देर तक सूक्ष्‍मयाम करें. पैरों में दर्द वाले लोग कई मिनट तक पैरों को सीधा करके बैठें और पैरों को चलाएं. 10-15 मिनट में सूक्ष्मयाम करने के बाद सूर्य नमस्कार करेंगे. इस प्रक्रिया को विस्‍तार से देखने के लिए आप नीचे दिए गए वीडियो को देख सकते हैं.

सूर्य नमस्‍कार करने का सही तरीका

प्रणामासन (Pranamasana): सूर्य नमस्कार करने के लिए सबसे पहले आप सीधा खड़े हो जाएं. आपकी कमर बिल्कुल सीधी होनी चाहिए. अब आप अपने हाथों से प्रणाम की मुद्रा बनाएं. फिर हाथों को अपनी छाती के पास लाएं और आंख बंद कर गहरी सांस लें.

हस्तउत्तनासन (Hasta Uttanasana): आप अपने हाथों को धीरे-धीरे ऊपर ले जाएं. सिर के ऊपर हाथ पहुंचने पर पीछे की तरफ धीरे धीरे झुकाएं. कुछ देर तक इसी मुद्रा को करें, इससे आपके शरीर की मांसपेशियां मजबूत होंगी.

पादहस्तासन (Padahastasana): इसके बाद सांस को छोड़ते हुए आगे की तरफ झुक जाएं. आपने हाथों से पैरों की उंगलियों को टच करने की कोशिश करें. कुछ मिनट तक इसी अवस्था में रहें.

यह भी पढ़ेंः कोर स्‍ट्रेंथ और घुटनों के लिए बहुत फायदेमंद है यह योगाभ्‍यास, जानें तरीका

अश्व संचालनासन (Ashwa Sanchalanasana): आप अपने सीधे पैर को पीठे की तरफ ले जाएं और घुटने को जमीन से लगाते हुए लेफ्ट पैर को पीछे की तरफ स्ट्रेच करें. अब अपनी हथेलियों को जमीन पर सीधा रखें और ऊपर सिर रखकर सामने की ओर देखें. ऐसा कुछ सेकंड्स तक करें.

दंडासन (Dandasana): आप योगाभ्यास के दौरान कुछ सेकंड्स तक शरीर को रिलैक्स अवस्था में रखें. इसके बाद अपने दोनों हाथों और पैरों को सीधा रखें और पुश-अप करने की अवस्था में आ जाएं.

अष्टांग नमस्कार (Ashtanga Namaskara): इसके बाद अष्टांग नमस्कार करना होगा. इसके लिए आप अपनी दोनों हथेलियों, सीने, घुटनों और पैरों को जमीन से सटाएं. इस मुद्रा में कुछ देर तक रहें. इससे शरीर की फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ेगी.

यह भी पढ़ेंः मलासन करने से दूर होती है कब्‍ज की समस्‍या, ऐसे करें सही अभ्यास

भुजंगासन (Bhujangasana): अपनी दोनों हथेलियों को जमीन पर रखते हुए पेट को जमीन से सटाएं और गर्दन को पीछे की ओर झुकाएं. इसमें आपको सांप की आकृति बनानी होगी.

अधोमुख शवासन (Adho Mukha Svanasana): अधोमुख शवासन अथवा पर्वतासन के के लिए अपने पैरों को जमीन पर सीधा रखें और कूल्हे को ऊपर की ओर उठाते हुए अपने कंधों को सीधा रखें. अपने चेहरे को अंदर की तरफ रखें.

अश्व संचालनासन (Ashwa Sanchalanasana): इसके बाद आप अपने राइट पैर को पीछे की तरफ ले जाएं और घुटना जमीन पर रखते हुए दूसरे पैर को मोड़े. हथेलियों से जमीन को छुएं और नजर ऊपर की तरफ रखें.

पादहस्तासन (Padahastasana): पादहस्‍तासन के लिए आगे की ओर झुककर हाथों से पैरों की उंगलियों को छुएं. सिर घुटनों से सटाने का प्रयास करें. इस तरह आपका सूर्य नमस्कार पूरा हो जाएगा.

Tags: Benefits of yoga, Lifestyle, Yoga

Source link

Video: शिल्पी राज ने माही श्रीवास्तव संग मचाया धमाल, 62 लाख से भी ज्यादा बार देखा गया ‘reel बना के जियत रहा’

PHOTOS: नुसरत जहां ने यश दासगुप्ता संग की हाथी की सवारी, चीता और तेंदुआ के साथ कपल ने की खूब मस्ती