in

Yoga Session: वजन बढ़ाने के लिए रोज करें सूर्य नमस्कार, हेल्थ को मिलेंगे कई फायदे

हाइलाइट्स

वजन को कम करने के लिए भी सूर्य नमस्‍कार किया जा सकता है.इसके अभ्यास करने में कुछ बदलाव करके ऐसा करना संभव है.

Yoga Session With Savita Yadav : नियमित सूर्य नमस्‍कार का अभ्‍यास शरीर को एनर्जी से भरपूर  रखने और तमाम अंगों को एक्टिव रखने में मदद करता है. अगर आप अपने वजन को कम करना चाहते हैं तो इसका अधिक चक्र करें और रफ्तार बढ़ाएं. जबकि धीमी गति से सूर्य नमस्‍कार का अभ्‍यास आपको वजन बढ़ाने में भी मदद कर सकता है. इसके नियमित अभ्‍यास से शरीर में स्‍ट्रेंथ बढ़ता है और ब्‍लड सर्कुलेशन अच्‍छा रहता है. यह भूख को बढ़ाने में भी मदद करता है जिससे आप हेल्‍दी रहते हैं. आज न्यूज़18 हिंदी के फेसबुक लाइव सेशन में योग प्रशिक्षिका सविता यादव (Savita Yadav) ने सूर्य नमस्‍कार का अभ्‍यास कराया और इसके फायदों के बारे में विस्‍तार से जानकारी दी.

इस तरह करें योग की शुरुआत
अपने अपने मैट में पद्मासन में बैठें और ध्‍यान की मुद्रा बनाते हुए आंखों को बंद कर लें और ‘ओम’ शब्‍द के उच्‍चारण कर मन को एकाग्र करने का प्रयास करें. आती-जाती सांसों पर ध्‍यान एकत्रित करें.  इसके बाद कुछ सूक्ष्‍मयाम का अभ्‍यास करें. विस्‍तार से देखने के लिए विडियो लिंक पर क्लिक करें.

अब जानें सूर्य नमस्‍कार करने का सही तरीका

प्रणामासन: योगा मैट पर खड़े हो जाएं. अपनी कमर-गर्दन को सीधा रखें और हाथ से नमस्कार की मुद्रा बनाएं. अब अपनी आंखें बंद करें और गहरी सांस लें.

हस्तउत्तनासन: गहरी सांस लेते हुए अब अपने हाथों को अपने सिर के ऊपर ले जाएं और इसके बाद सिर व कमर को पीछे की तरफ धीरे से झुकाएं. कुछ देर इस मुद्रा में होल्‍ड रहें.

पादहस्तासन: सांस को बाहर निकालते हुए अब आगे की तरफ झुकें. अपने हाथ की उगलियों से पैरों की उंगलियों को छूने का प्रयास करें.

यह भी पढ़ें : शरीर को मजबूत बनाता है शशांकासन और भुजंगासन, इस तरह करें अभ्‍यास

अश्व संचालनासन: अपने एक पैर को पीछे की तरफ ले जाएं और एक पैर का घुटना जमीन पर टिकाते हुए दूसरे पैर को पीछे की ओर स्‍ट्रेच करें. अब अपनी हथेलियों को जमीन पर रखें और आकाश की ओर देखें.

दंडासन: अपने दोनों हाथों और पैरों को सीधा करें और एक लाइन में लाएं. अब पुश-अप करने की मुद्रा में आ जाएं और होल्‍ड करें.

अष्टांग नमस्कार: अपनी हथेलियों, सीने, घुटनों और पैरों को जमीन से सटाएं और इस पोजिशन में खुद को थोड़ी देर होल्ड करें.

भुजंगासन: अपनी हथेलियों को जमीन पर रखें और अब पेट को भी जमीन से सटाते हुए गर्दन को पीछे की तरफ झुकाएं.

अधोमुख शवासन: पैरों को जमीन पर सीधा रखें और कूल्हे को ऊपर की ओर उठाएं. अपने कंधों को सीधा रखें और मुंह को अंदर की तरफ रखें.

इसे भी पढ़ें : शरीर में रक्‍त संचार को बेहतर रखने के लिए करें कपालभाति, जानें सही तरीका

अश्व संचालनासन: अब दूसरे पैर को पीछे की तरफ ले जाएं. घुटने को जमीन से सटाते हुए पहले पैर को मोड़ें. अब हथेलियों को जमीन पर रखते हुए आसमान की तरफ देखें.

पादहस्तासन: अब आगे की ओर झुकें और अपने हाथों से अपने पैरों की उंगलियों को छुएं. अपने सिर को घुटनों से सटाने की कोशिश करें.

हस्तउत्तनासन: अब प्रणामासन की मुद्रा में खड़े हो जाए और अब हाथों को ऊपर उठाएं और सीधा करें. हाथों को नमस्कार करने की मुद्रा में लाएं और पीछे की ओर ले जाएं और पीछे की तरफ झुकाएं.

प्रणामासन: हाथों को जोड़कर प्रणाम की मुद्रा बनाएं और सीधे खड़े हो जाएं. अभ्‍यास को आप विडियो लिंक पर देख सकते हैं.

Tags: Benefits of yoga, Lifestyle, Yoga

Source link

कपिल शर्मा का दुबई में हुआ शानदार स्वागत, VIDEO शेयर कर कॉमेडी किंग ने कहा- ‘पेट भर गया पर दिल नहीं भरा’

खुशखबरी! ये कंपनी करने जा रही है 9000 कर्मचारियों की भर्ती, कहीं से भी काम करने की होगी आजादी | Global firm to hire 9000 employees with option work from anywhere.